ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
इटावा- नहीं मिली एम्बुलेंस,मजदूर ने कंधे पर ढोया बेटे का शव

इटावा के डॉ भीमराव अम्बेडकर राजकीय संयुक्त चिकित्सालय में एम्बुलेंस ना मिलने के कारण एक बाप को अपने बेटे का शव कंधे पर ढोना पड़ा. और इसी तरह से वो शव को अपने घर तक लाया. मजदूर बाप के बेटे के पैरो में दर्द था. डाक्टरों ने उसकी ठीक तरह से जांच भी नहीं की और उसे मृत घोषित कर दिया. इसके बाद अस्पताल ने उसे एम्बुलेंस भी नहीं दी .जब कि अस्पताल में एम्बुलेंस सेवा सबके लिए मुफ्त है. इटावा के चीफ मेडिकल ऑफिसर ने बताया कि लड़के कि अस्पताल लाने से पहले ही मौत हो चुकी थी.स्टाफ हादसे में घायल लोगो के इलाज में लगा था. इसी कारण किसी का उस पर ध्यान नहीं गया.

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com