ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
हैंडमेड फर्नीचर,प्लास्टिक प्रोडक्ट,शैम्पू और बाथ फिटिंग्स पर टैक्स घटाने का विचार ,हो सकते है सस्ते

नई दिल्ली- जीएसटी काउन्सिल की बैठक में प्लास्टिक प्रोडक्ट,बाथ फिटिंग्स, शैम्पू, जैसी कुछ रोजाना स्तेमाल में आने वाली चीजों और हैण्ड मेड फर्नीचर पर से टैक्स घटाने पर विचार चल रहा है.इसके अलावा रिटर्न फाईलिंग के नियमो को भी आसान किया जा सकता है.काउन्सिल की अगली मीटिंग इसी माह गुवाहाटी होने वाली है.1 जुलाई से जीएसटी लागू होने के बाद से हर माह काउन्सिल की समीक्षा बैठक हो रही है.मिली जानकारी के अनुसार रोजाना इस्तेमाल की जाने वाली कुछ वस्तुए अभी जिनमे अभी 28 % टैक्स ब्रैकेट में है इन्हे 18 % की कैटेगरी में लाया जा सकता है. प्लास्टिक बनाने वाली कंपनियों ने सर्कार से कहा है की 80 % यूनिट छोटे और मंझोले है.90 % मैन्युफैक्चर एमएसएमई कैटेगरी के है. जीएसटी से पहले 1.5  करोड़ रु तक टर्न ओवर वालो को एक्साइज ड्यूटी से छूट थी इनकी बनाई चीजों पर सिर्फ वैट लगता था.लेकिन जीएसटी रेट तय करने में वैट के साथ एक्साइज को भी जोड़ा गया इसलिए इन मैन्युफैक्चरर के प्रोडक्ट महंगे हो गए अब वापस वापस फर्नीचर,प्लास्टिक प्रोडक्ट, बाथ फिटिंग कम्प्रेशर और तौल मशीनों पर से टैक्स कम करने की तैयारी चल रही है.  

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com