ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
छात्रावास में मिली गंदगो ,बच्चो ने टीम को बताई कई परेशानी

भोपाल-बुधवार को श्यामला हिल्स स्थित शासकीय अनुसूचित जाति प्रावीण्य उन्नयन बालक छात्रावास के छात्रों ने हॉस्टल का निरिक्षण करने आई बाल अधिकार संरक्षण आयोग की टीम से अपने दर्द को बयान किया. उन्होंने बताया की सर, हॉस्टल में हमारी सुरक्षा के लिए न तो कोई चौकीदार है और न वार्डन हमारी समस्या पूछते है. बस दिन में दो बार चक्कर लगा कर चले जाते है. तीन दिन से कोई सफाई कर्मचारी नहीं आया है जिससे हॉस्टल में सब तरफ गंदगी फैली हुई है. खाना भी अच्छा नहीं मिलता है और आये दिन खाने में कीड़े निकलते है. शिकायत मिलने पर जब वार्डन जयराम सिंह को बुलवाया गया तो वे गड़बड़ी छुपाने के चक्कर में कई तरह के बहाने बनाते नजर आये. इन दिनों छात्रावास में 69 छात्र रह रहे है. जांच में पाया गया की हॉस्टल में चौकीदार है ही नहीं. कर्मचारी ड्यूटी पर से नदारद रहते है लेकिन रजिस्टर में उनकी उपस्थिति दर्ज रहती है. तय मेन्यू के अनुसार खाना नहीं बनता है, किचन में गंदगी का अंबार है और आटा, चावल, दाल आदि खुले पड़े है.खाने की गुणवत्ता खराब है, लाइब्रेरी में किताबे नहीं है.निरिक्षण रजिस्टर व्यवस्थित नहीं है. वार्डन का कहना है की उसके ऊपर तीन हॉस्टलों की जिम्मेदारी है इस लिए वो किसी एक हॉस्टल को पूरा समय नहीं दे पाता है. 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com