ब्रेकिंग न्यूज़ नई दिल्ली। मोदी सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया से आगे सड़क पर होना : सोनिया गांधी                भोपाल। प्रो॰ अग्रवाल एपीएस विवि रीवा के कुलपति नियुक्त।                भोपाल। कमलनाथ के खिलाफ षड्यंत्र कर रही है भाजपा : पूर्व राज्यपाल कुरैशी।                विदिशा। मत भरो बिजली के बिल, वे लाइन काटेंगे, हम जोड़ देंगे : शिवराज सिंह चौहान                मध्य प्रदेश / 20 साल पहले सास फर्जी मार्कशीट से शिक्षक बनी थी, बहू की शिकायत पर बर्खास्त                अहमदाबाद। मुझे विश्वास है लोगों की जान बचाने के लिए सभी राज्य केंद्र का एक्ट लागू करेंगे : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी                नई दिल्ली - जो भारत विरोधी गतिविधियों में लगे हुए हैं, उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी : केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह                  
डाक्टर की पत्नी को झांसा दे भिखारन ले उड़ी चार लाख की नगदी और जेवर

 भोपाल-रामानंद नगर लाल घाटी में रहने वाली एक गृहणी को भिखारन को पानी पिलाना महंगा पड़ गया. गृहणी प्रेमलता प्रजापति के पति रामचंद्र प्रजापति का परवलिया में क्लिनिक है.रविवार की सुबह पति क्लिनिक चले गए  और प्रेमलता बच्चो के साथ घर पर थी तभी एक प्रौढ़ महिला ने दरवाजे पर आ कर उससे पीने के लिए पानी माँगा. जब प्रेमलता पानी लेने अंदर गयी तो महिला पीछे पीछे अंदर आ गयी. अंदर आकर उसने कहा की उसे देवी आती है.बस थोड़ा सा आटा लेकर आ जाओ.बेटी ने आटा लाकर दिया तो वह उसे गूथने लगी.और बोली घर पर कोई संकट आने वाला है. तुम्हारे पति और बेटे की जान का खतरा है.मै पूजा पाठ करके सब ठीक कर दूंगी.महिला ने दो स्टील के डब्बे,लाल कपडा और चावल मंगाया. और कहा की घर का सारा जेवर और नगदी ले आओ कुछ भी नहीं छोड़ना नहीं तो अनर्थ हो जायगा. प्रेमलता उसके कहने पर सारे जेवर और घर में रखी दो लाख नगदी लेकर आ गयी.महिला ने एक डब्बे में गुथा आटा और दूसरे में सब नगदी और जेवर रख दिए.और दोनों डब्बो को कपड़े से ढंक दिया.  फिर प्रेमलता से कहा कि तुम घर में जाते समय चावल पीछे फेक देना और पीछे मुड़ कर नहीं देखना.कुछ शक होने पर प्रेमलता ने पीछे मुड़ कर देखा तो महिला गायब थी.जब उसने डब्बा खोला तो नगदी और जेवर भी गायब थे.इसके बाद महिला थाने पहुंची और इसकी शिकायत की.

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com