ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
पति ने स्कूटी नहीं दिलाई तो पत्नी ने लगाईं फांसी

भोपाल-मिसरोद इलाके में एक महिला ने सिर्फ इस लिए फांसी लगा कर जान देदी क्योकि उसका पति उसे स्कूटी नहीं दिला रहा थामामला दानिश नगर का है,रहवासी शैलेन्द्र मिश्रा एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता है.उनकी २६ वर्षीय पत्नी श्वेता मिश्रा स्कूटी दिलाने की जिद कर रही थी. .पति से सुबह इसी बात पर विवाद हुआ,पति ने कहा की शाम को बात करते है और ऑफिस चला गया. दोपहर 12 बजे जब श्वेता का भतीजा घर पंहुचा तो दरवाजा अंदर से बंद था. उसने काफी आवाज दी लेकिन दरवाजा नहीं खुला.शोर सुनकर पड़ोस में रहने वाले लोग वहां आ गए. उन्होंने किसी तरह अंदर घुस कर श्वेता को फंदे से उतारा और अस्पताल ले गए.जहाँ डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.उनके चार और डेढ़ साल के दो बच्चे है. परिजनों का कहना है की शैलेन्द्र बीते तीन सप्ताह से ऑफिस जा रहा था. रविवार को श्वेता ने कहा की आज ऑफिस न जाओ,बच्चो को बाहर घुमा दो.इसी बात पर उनका विवाद हुआ था. हालांकि मौके पर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है.

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com