ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
माता पिता बाजार नहीं ले गए तो दस साल के छात्र ने लगाईं फांसी

भोपाल- गाँधी नगर के शांति नगर बस्ती में रहने वाले दंपत्ति को बेटे को बाजार न ले कर जाना इतना महंगा पड़ा कि उन्हें बेटे से ही हाथ धोना पड़ गया.पति पत्नी बाजार जा रहे थे और उनका दस साल का इकलौता बेटा धीरज उनके साथ जाने की जिद कर रहा था.काफी समझने के बाद भी वो नहीं मान रहा था.पिता को लग रहा था कि अगर वो साथ गया तो ज्यादा पैसा खर्च होगा.आखिर में धीरज को वे बड़ी बहनों के पास छोड़ कर बाजार चले गए.कुछ देर बाद बड़ी बहन आरती पास के घर में चली गयी..जब वावपस लौटी तो उसने देखा कि धीरज ने चादर का फंदा बना कर फांसी लगा ली है. उसकी चीख सुन कर पड़ोसी इकठ्ठा हो गए और धीरज को उतार कर अस्पताल ले गए. डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया.पुलिस ने शव का पोस्ट मार्टम कर परिजनों को सौंप दिया.

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com