ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
दतिया के जिला अस्पताल में भारी लापरवाही. 25 की तबियत बिगड़ी,एक की मौत

दतिया- जिला अस्पताल में एक ही सिरिंज से इंजेक्शन लगाने से पच्चीस मरीजों की तबियत बिगड़ गयी.उन्हें घबराहट होने लगी और वे कंपकपाने लगे.और एक मरीज की तो इतनी तबियत खराब हो गयी कि उसे जान से ही हाथ धोना पड़ा.मृतक कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष सरनाम सिंह राजपूत का चचेरा भाई था. बाकी मरीजों की तबियत स्थिर बनी हुई है.जानकारी के मुताबिक यह इंजेक्शन वार्ड प्रभारी कमला वर्मा के कहने पर नर्स डी.गौतम ने लगाए थे. सिविल सर्जन डॉ पीके शर्मा ने बताया की नर्स ने मेडिकल वार्ड ने भरती बुखार और हादसे में घायल मरीजों को सिरिंज बदले बिना इंजेक्शन लगा दिए.इंजेक्शन लगाने के बाद ही तीन वार्डो में भर्ती मरीज कांपने लगे और उन्हें घबराहट होने लगी. मरीज के मौत के बाद सीएस के अलावा ड्यूटी पर तैनात अन्य डाक्टर भाग गए. पुलिस ने मरीजों के परिजनों को समझाकर शांत किया. मृतक के परिजनों ने संबंधित डाक्टर और नर्स के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने की मांग की है.

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com