ब्रेकिंग न्यूज़ भोपाल-एक ही स्टूल पर खड़े होकर प्रेमी युगल ने फांसी लगाईं                भोपाल-10 नं मार्केट में कारोबारी ने दिनदहाड़े व्यापारी पर गोली चलाई                भोपाल में 35 सालो बाद गुरुवार की रात को तेज ठंड                मुंबई-फिल्म अभिनेता कादर खान की हालत नाजुक                भोपाल-पचमढ़ी से भी ठंडा रहा भोपाल                मुंबई की ईमारत में लगी आग में पांच की मौत                कोलकोता मेट्रो में धुंआ से कई यात्री बीमार पड़े                बालाघाट में पेड़ में फंदा लगाकर किसान ने जान दी                खंडवा में डीएसपी ने नशे में धुत्त होकर उत्पात मचाया                खंडवा- नवजात की उंगली ज्यादा थी तो घरवालों ने ही काट दी,मौत                रीवा - संदिग्ध हत्यारे ने तीन घंटे तक कट्टा लेकर पुलिस को धमकाया,गोली चला दूंगा                सागर- जमीन विवाद के चलते एक ही परिवार के तीन लोगो ने लगाईं फांसी ,दो ने खाया जहर                नई दिल्ली- नए आतंकी ग्रुप का खुलासा -मौलवी और इंजीनियरिंग के छात्र समेत दस गिरफ्तार                धार-बिजली कंपनी का एई 40 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार                इंदौर-शराबी मौसा ससुर को घर आने से रोका तो बेटी ने भाभी के मुंह पर फेका तेज़ाब                  
फिर जुटा निगम प्रशासन स्वच्छता रैंकिंग बढ़ाने की कवायद में

भोपाल-स्वच्छ्ता अभियान में लगाकर दो साल से दूसरे नं पर आने वाली भोपाल नगर निगम ने एक बार फिर स्वच्छता सर्वेक्षण पर फोकस करना शुरू कर दिया है. पिछली बार जब भोपाल को देश में दूसरा नं मिला था तो कई को ये बात हजम नहीं हुई थी. उनका मानना था कि बीते साल नवाचार मामले में कबाड़ से जुगाड़ और इसी तरह से दिखावटी कामों को दिखा कर निगम ने देश में दुसरे स्वच्छ शहर का तगमा पाया था. इस बार निगम प्रशासन पूरी कोशिश कर रही है कि उनके हाथ से ये तगमा न छूटे और हो सके तो उन्हें पहला स्थान मिल जाये. इसके लिए नगर निगम आम जन को अवेयर कर रहा है.स्लम एरिया में दीवारों को पेंट कराया जा रहा है. शहर की दीवारों पर दुबारा पेंटिंग कराइ जा रही है. प्लास्टिक वेस्ट से निर्मित कुर्सियों को सार्वजानिक स्थानों पर लगाया जा रहा है.   हालाँकि नगर निगम का कई जगहों पर ध्यान नहीं है. वेस्ट डिस्पोस करने करने का कोई पुख्ता इंतजाम नहीं है. कचरा जलाने, समय पर कचरा न उठाने वाले एएचओ दरोगा और सफाईकर्मियों पर कोई कार्यवाही नहीं होती है.सीवेज लाइन जाम है.रहवासी इलाको में दिन में दो बार और रात में सफाई नहीं हो रही है.जगह जगह कचरा दिखाई देता है. भानपुर खंती में अभी भी वेस्ट डिस्पोस हो रहा है. ससफ़ाई कर्मियों पर मॉनिटरिंग की कमी दिखाई दे रही है.  

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com