ब्रेकिंग न्यूज़ इंदौर मे भाजपा कार्यकर्ता की गोली मार कर हत्या।                भोपाल। युवक की बाइक डिवाइडर से टकराई, मौत।                भोपाल। मुंबई एयरपोर्ट पर सट्टा किंग गिरीश तलरेजा गिरफ्तार।                भोपाल। कॉंग्रेस के 83 वचन पूरे हुये है तो सन्यास ले लूँगा, शिवराज सिंह।                  
जानलेवा हादसो को आमंत्रित करते बिजली विभाग के खुले तार, और लटकते मीटर


भोपाल। ( सुलेखा सिंगोरिया) शहर मे जगह जगह लापरवाही से दिया जा रहा है हादसो को न्योता कई ऐसे कॉम्प्लेक्स है। जहां पर बेतरतीब मीटर, लटकते हुये तारो से कोई भी कभी भी दुर्घटना हो सकती है। शहर मे इसी साल अब तक ऐसी ही लापरवाई के कारण ट्रास्फ़ोर्मर मे आग लगने के कारण 4 घटनाये हो चुकी है। ऐसे ही कई हादसे आए दिन कॉम्प्लेक्स मे तारो  के लटकने से भी हो जाते है। बिजली कंपनी घटना होने पर दुरस्त करने का तो दावा करती है, लेकिन कोई काम नहीं करती है। हालहि मे मंगलवार को राम गणेश कॉम्प्लेक्स मे ट्रास्फ़ोर्मर मे आग लागने से एक व्यापारी संदीप जैन की मौत हो गई। लेकिन अभी भी बिजली वालों ने इस घटना से भी कोई समझदारी नहीं दिखाई।

एमपी नगर जॉन-2 मे मंडी बोर्ड आवासीय परिसर मे पार्किंग मे मीटर के बेकार हालात है, कर्मचारी रीडिंग लेने आता है लेकिन किसी को भी फ्रिक नहीं है कि उनकी इस लापरवाही के कारण किसी कि जान जा सकती है। ज्योति कॉम्प्लेक्स, रणथंभोर आवासीय परिसर जहां मीटर जंग खा चुका है, ऐसे कई कॉम्प्लेक्स है जहां पर बिजली कंपनी अपनी लपरवाली का सबूत खुले आम दे रही है।

 जवाब देही के लिए कोई नहीं तैयार...... बकायदा नियम बनाए गए है कि मीटर कहा और ऐसे लगेगे। लेकिन बिल्डर ओर एजेंसी द्वारा एक बात को प्राथमिकता न देने पर, ऐसे मे हमेशा हादसे से कारण बनते हैं, इस प्रकार कि लापरवाही को देखते हुये,जब इलेक्ट्रिक इंस्पेक्टर एसएम मुजाल्दे से बात कि तो उन्होने कुछ भी बोलने से माना कर दिया। कहा कि मे इस संबंध मे कुछ कोई जवाब नहीं दे सकता। इलेक्ट्रिक इंस्पेक्टर एसएम मुजाल्दे ने कहा कि इस संबंध मे ओएसडी पीके चतुर्वेदी से बात करे, चतुर्वेदी जी से बात करने कि कोशिश कि तो न ही उन्होने फोन उठाया न ही कोई संदेश का जवाब दिया।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com