ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
पूर्व सीएम शिवराज सिंह के बयान को लेकर राजनीति गरमाई, आई॰ए॰एस॰ एसोसिएशन ने भी जताई आपत्ति

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) पिछले कुछ दिनो से सभी राजनैतिक नेताओ मे आपस मे जैसे युद्ध सा चल रहा है अभी हालहि मे पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा छिंदवाड़ा कलेक्टर पर की गई टिप्पणी से सियासत गरमा गई है। भाजपा और कॉंग्रेस एक-दूसरे के खिलाफ गुरुवार को चुनाव आयोग पहुँचे। आयोग ने मामले की गंभीरता को समझते हुये पूरे घटनाक्रम की रिपोर्ट 24 घंटे मे बुलवा ली। औए इसकी जांच अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव को सौंप दी। इसके बाद मप्र आई॰ए॰एस॰ एसोसिएशन ने भी शिवराज सिंह के ब्यान पर आपत्ति दर्ज करते हुये चुनाव आयोग से शिकायत कि और इस संबंध मे चुवान आयोग को एक पत्र भेजा। एसोसिएशन ने कहा कि स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने कि ज़िम्मेदारी कलेक्टर कि होती है, इस प्रकार कि टिप्पणी से उसका मनोबल कम होगा। आयोग ऐसी घटनाओ पर ध्यान दे और दिशा - निर्देश जारी करे। उल्लेखनीय है कि शिवराज को चौराई से उमरेठ हेलिकॉप्टर से जाना था। अनुमति नहीं मिलने के बाद वे सड़क मार्ग से उमरेठ गए। शिवराज ने बुधवार को छिंदवाड़ा के उमरेद मे हेलिकॉप्टर उतारने की अनुमति न देने पर चौरई कि सभा मे कहा था कि ऐ पिटठू कलेक्टर सुन ले रे, हमारे भी दिन आएंगे फिर तेरा क्या होगा। इस ब्यान के बाद अपने पक्ष मे शिवराज ने कलेक्टर कि शिकायत करते हुये कहा कि छिंदवाड़ा कलेक्टर श्रीनिवास शर्मा पर कार्रवाई कि जाए शिकायत मे कहा कि कलेक्टर ने शाम 5 बजे हेलिकॉप्टर उड़ने कि अनुमति नहीं दी, जबकि विजुअल फ्लाइट रुल्स मे प्रावधान है कि सूर्योदय के 20 मिनट पहले और सूर्यास्त के 20 मिनट बाद तक हेलिकॉप्टर उड़ने कि अनुमति दी जा सकती हैं।

भाजपा के करीब डेढ़ घंटे बाद कॉंग्रेस नेताओ ने आयोग पहुँच कर शिवराज पर कार्रवाई कि मांग की। शिकायत मे लिखा कि विमानन विभाग के परिपत्र के अनुसार जिन हवाई पट्टियों ने नाइट लौडिंग सुविधा नहीं है। वहाँ शाम 5 बजे तक ही उड़ान भरने व लौडिंग कि अनुमति है। इसी परिपत्र के आधार पर छिंदवाड़ा कलेक्टर ने शाम 5 बजे तक कि ही अनुमति भाजपा को प्रदान की थी।