ब्रेकिंग न्यूज़ मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                भोपाल। हनी ट्रेप महिलाओ ने किए कई बड़े खुलासे, पुलिस पर बना दवाब।                पुलवामा जैसी घटना ही महाराष्ट्र के लोगो का मूड बदल सकती हैं : शरद पवार।                महाराष्ट्र। हमें शिवसेना को डिप्टी सीएम का पद देने में कोई दिक्कत नहीं : मुख्यमंत्री फडणवीस।                  
ट्रांसफार्मर मे लग रही है लगातार आग बिजली विभाग के अफसर घटनाओ को नहीं ले रहे गंभीरता से......

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) शहर बड़ता इन हादसो का सिलसिला कब तक यूंही चलता रहेगा। बार-बार शिकायत करने पर भी कोई सुधार नहीं होने पर आदमी को चुकानी पड़ती है महंगी कीमत।अभी हालहि मे एम–पी नगर जोन-1 मे चित्तौड़ कॉम्प्लेक्स के पास स्थित ट्रांसफार्मर मे मंगलवार दोपहर आग लगने से दहशत फ़ेल गई। ट्रांसफार्मर मे से बह रहे ऑइल के कारण छोटी सी चिंगारी भयानक आग मे बदल गई। कुछ मिनट मे ही आग ने पास की चार दुकानों को अपनी चपेट मे ले लिया। आरोप है की पहली दमकल को पहुँचने मे 45 मिनट लग गए, और इस बीच एक सांची पार्लर और गुमठी जल कर राख़ हो गए। कुछ समय पहले चिंगारी उठने की शिकायत होने पर बिजली कंपनी ने सोमवार को ही इसे सुधारा था। चित्तौड़ कॉम्प्लेक्स के पास हुये इस हादसे के आसपास मे 20 कॉम्प्लेक्स बने है। 50 कदम दूर चिल्ड्रन हॉस्पिटल है। और 200 मीटर के अंदर पाँच गर्ल्स हॉस्टल है। इस हादसे के बारे मे लोगो ने मामला कुछ प्रकार बया लिया। इस ट्रांसफार्मर मे चिंगारी कि शिकायत कई बार कि जा चुकी है। मंगलवार दोपहर करीब 1:50 बजे ट्रांसफार्मर से ऑइल निकालने लगा और आग भड़क गई। लोगो ने बताया कि इस हादसे से पहले इस ट्रांसफार्मर मे पिछले तीन महीने मे करीब छठवी बार आग लगी हैं। आग लगने से हुये अफरा तफरी के बाद इस सड़क पर ट्रैफिक जाम के हालात बन गए।

हादसे से नहीं लिया सबक  

कुछ दिनो पहले लालवानी प्रेस रोड पर राम गणेश कॉम्प्लेक्स मे लगी आग ने बिजली कंपनी वालों ने कोई सबक नही सीखा। इस हादसे मे कपड़ो के व्यापारी संदीप जैन की दम घुटने से मौत हो गई थी। इस मामले मे भोपाल कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव ने जांच के आदेश भी दिये थे। बिजली कंपनी कोतवाली पुलिस और बिजली कंपनी अपने अपने स्तर पर जांच करवा रहे है। 14 दिन बीतने के बाद भी व्यापारी की मौत का जिम्मेदार कौन है। यह तय नही हुआ हैं।

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com