ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
महिला ने दो बेटियो के साथ बड़े तालाब मे कूद कर दी जान।

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) शुक्रवार को शीतलदास कि बगिया के पास बड़े तालाब मे हुई एक घटना मे घरेलू विवादो से परेशान एक महिला ने अपनी दो बेटियो के साथ बड़े तालाब मे कूद कर जान दे दी। खबर मिलने पर मौके पर पहुँच कर पुलिस ने तीनों शवो को बाहर निकाला। पहचान न होने पर पुलिस ने तीनों के शव को मर्चूरी मे भेज दिया था। हालाकि शाम तक उनकी पहचान भैसाखेड़ी, स्थित नई बस्ती निवासी, अवनीश शाक्य कि पत्नी लक्ष्मी, और बेटियाँ रिया शाक्य, मोनिका शाक्य के रूप मे हुई।

अवनीश ने बताया कि मेरे तीन बच्चे है, दो बेटी और एक बेटा राज। राज को डेंगू हो गया है। उसका इलाज चिरायु अस्पताल मे चल रहा हैं। इलाज मे पैसे कि कमी को लेकर मेरा अपनी पत्नी लक्ष्मी से झगड़ा चल रहा था। मैंने लक्ष्मी से कहा कि इलाज के बहुत पैसे खर्च होगा। पैसे कहा से आएगा। वैसे भी बहुत कर्जा हो गया है। ऐसा लगता है आत्महत्या कर लूं। यह बात सुन कर लक्ष्मी ने कहा तुम बस अपने बेटे का ख्याल रखना। तुम्हारी जगह मे मर भी जाऊँगी तो कुछ नहीं होगा। बस उसका इलाज करा देना। दूसरे दिन लक्ष्मी ने कहा कि बेटा रिया को बुखार है उसको झड़वाने सीहोर मोती बाबा के दरवार ले जाना हैं, इससे पहले भी दो दिन पहले वह बेटियो के साथ सीहोर गई थी। शुक्रवार को सुबह दोनों बेटियो को लेकर घर से निकली थी, लेकिन ऐसा नहीं सोचा था कि इतना बड़ा कदम उठा लेगी।    

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com