ब्रेकिंग न्यूज़ मप्र / हनी ट्रैप: महिलाओं ने विधायक को भी ब्लैकमेल किया, पूर्व सांसद ने परेशान होकर खुदकुशी की कोशिश की थी                नई दिल्ली। मोदी सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया से आगे सड़क पर होना : सोनिया गांधी                भोपाल। प्रो॰ अग्रवाल एपीएस विवि रीवा के कुलपति नियुक्त।                भोपाल। कमलनाथ के खिलाफ षड्यंत्र कर रही है भाजपा : पूर्व राज्यपाल कुरैशी।                  
आरटीआई कार्यकर्ता ने जहर खाया, सुसाइट नोट मे पूर्व मंत्री अर्चना चिटनीस का भी नाम।

खंडवा।(विशेष प्रतिनिधि)  जगन्नाथ माने पिता शिवाजी माने जो एक पूर्व एल्डरमैंन, आरटीआई कार्यकर्ता व बजाज आलियांज के एजेंट थे। माने ने सोमवार सुबह 6:30 बजे अपने घर पर कीटनाशक दवा पीकर आत्महत्या कर ली। 52 साल के माने ने सुसाइट से पहले रविवार को पाँच पेज का सुसाइट नोट लिखा था। जिसमे पूर्व मंत्री अर्चना चिटनीस, खंडवा के तत्कालीन कलेक्टर अभिषेक सिंह, पूर्व सीएसपी शेषनारायण तिवारी, कॉलोनाइजर उमेश मिश्रा, बलराम गोलानी, रणधीर जांगीड़, व्यवसायी रमनीत सलूजा, पेट्रोल पंप व्यवसायी प्रकाश नरेडी, सचूल संचालक पवन अग्रवाल, सिकरवार, रितेश गोयल, खदान संचालक छगन एतालकर, गोपाल एतालकर, अजयसिंह सिसोदिया, सेल्स मैनेजर कविता यादव पर प्रताडना का आरोप लगाया गया हैं। इन सभी लोगो पर प्रताडना का आरोप लगाया है ओर सुसाइट नोट मे उन्होने लिखा है कि अब में इनकी प्रताडना से इतना तंग आ गया हूँ कि जीना नहीं चाहता हूँ। बताया जा रहा है कि बीज विक्रेता उमेश मिश्रा ने माने पर ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाया था। जिससे माने को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। 24 अप्रैल को वह जमानत पर रिहा हुआ था। माने से सुसाइट नोट मे लिखा है कि जेल से छूटकर आने पर बजाज आलियांज कि बुरहानपुर निवासी  महिला सेल्स मैनेजर कविता यादव ने साथ रहने का दवाब बनाया। इसके अलावा उमेश मिश्रा अपने ओर साथियो के साथ कविता से एक और केस दर्ज कराने का दवाब बना रहे थे।  

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com