ब्रेकिंग न्यूज़ भोपाल : निगम की वेबसाइट से गायब हैं महापौर पार्षद                रतलाम : पश्चिम एक्स्प्रेस के फ़र्स्ट एसी कोच की स्प्रिंग टूटी |                भोपाल : पहली बार भोपाल में पुलिस परिवारों के लिए भी गरबा आयोजित                भोपाल : कमलनाथ बोले – शिवराज सरकार झूठ का पुलिंदा हैं                मुरादाबाद : नाबालिग से समूहिक दुष्कर्म, सड़क पर निर्वस्त्र छोड़ा |                नई दिल्ली : हिजाब – सुनवाई पूरी कोर्ट नें फैसला सुरक्षित रखा |                नई दिल्ली-- कोमेडियन राजू श्रीवास्तव का लंबी बीमारी के बाद निधन                भोपाल : भोपाल शहर के नए प्रधान आयकर आयुक्त होंगे राजीव वाशर्णेय,अजय अत्री को इंदौर की कमान                भोपाल : केके मिश्रा ने ब्राहामणों को दी गाली ,भाजपा बोली – भारत जोड़ो यात्रा नहीं निकलने देंगे                भोपाल : इज्तिमा 18 से 21 नवंबर तक पहली बार विदेशी जमात शामिल नहीं होगी                नई दिल्ली : ईरान में महिलाएं हिजाब के खिलाफ सड़क पर हैं                मुंबई : केंद्रीय मंत्री राणे का अवैध निर्माण टूटेगा 10 लाख का जुर्माना लगा                गुना : कांग्रेस नेता ने बेटे को नौकरी दिलाने के नाम पर महिला के साथ ज़्यादती की                आगरा : ताजमहल परिसर में विदेशी महिला टुरिस्ट को बंदर ने काटा |                जयपुर : राम मंदिर आंदोलन से जुड़े आचार्य धर्मेन्द्र का निधन |                नई दिल्ली : गुजरात के आईपीएस को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत |                मुख्यमंत्री के निर्देश पर झाबुआ के एसपी अरविंद तिवारी सस्पेंड किए गए |                भोपाल, केक काटने को लेकर हुए विवाद में एसआई पर महिला से झूमाझटकी का आरोप                लखनऊ – भोपाल और लखनऊ गरीबरथ एक्स्प्रेस तीन –तीन दिन निरस्त रहेंगी                गुजरात : ब्रेस्ट कैंसर के खिलाफ जागरूकता के लिए 1000 जैन साध्वियाँ ब्रांड एम्बेसडर बनेंगी                  
बिगड़ती कानून व्यवस्था पर हाईकोर्ट सख्त

जोधपुर हर साल दुष्कर्म कि घटनाए बढ़ती ही जा रहा हैं, बीते 3 महीने मे दुष्कर्म कि 63 केस दर्ज हुये हैं। ऐसे मे अंदाजा लगाया जा सकता हैं कि राज्य सरकार अपनी ज़िम्मेदारी के प्रति कितनी ईमानदार लगनशील हैं। राजस्थान हाईकोर्ट ने राज्य मे कानून व्यवस्था की बदहाल स्थिति को लेकर पत्रिका ने शुक्रवार को प्रवाह कॉलम मे प्रकाशित टिप्पणी ‘निकम्मेपन की हद’ पर संग्ज्ञान लेते हुये राज्य सरकार से जवाब मांगा हैं। पुलिस महानिदेशक को ये शपथपत्र पेश करने के आदेश दिये गए है की दुष्कर्म के मामले मे क्या कार्रवाई की गई।

अगली सुनवाई 27 मई को होगी। न्यायाधीश संदीप मेहता तथा न्यायाधीश विनीत कुमार माथुर की खंडपीठ ने शुक्रवार को पत्रिका के मुखपृष्ठ पर ‘निकम्मेपन की हद’ शीर्षक से प्रकाशित टिप्पणी मे वर्णित तथ्यो को गंभीरता से लिया। जिसमे बताया गया था कि पिछले 3 महीनो मे दुष्कर्म के 63 मामले दर्ज हुये। पर कार्रवाई 3 मामलो मे हुई। बीते साल बलात्कार के 165 मामलो मे पुलिस ने एफआर ही लगा दी। 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com