ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
कोचिंग संचालको को दी गई समय सीमा पूरी होने पर भी कोई जांच नहीं।

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) सूरत मे हुए हादसे के बाद राजधानी की कोचिंगो मे बच्चो कि सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम है या नहीं, इसके लिए संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव के निर्देश पर 16 सदस्यीय चार टीमों ने शहर कि 200 से ज़्यादा कोचिंग ओर 150 से ज़्यादा हॉस्टल कि जांच कारवाई थी। जांच के चलते इस कोचिंग संचालको को नोटिस देकर पुख्ता इंतेजामात करने के लिए 15 दिन का समय दिया गया था। उसकी मियाद पूरी हो चुकी हैं। लेकिन क्या वहाँ पर व्यवस्थाये दुरुस्त हुई है या नहीं, इसकी जांच-पड़ताल एक भी अधिकारी ने नहीं की। यानी सिर्फ नोटिस देकर ही जिला प्रशासन के अमले ने अपनी ड्यूटी पूरी कर ली हैं।

चार कोचिंग संचालको के जवाब......इंतेजाम कर लिए हैं।  

शहर की चार कोचिंग संचालको ने प्रशासन को शपथ पत्र पेश कर जवाब दिया, कि नियमानुसार आग बुझाने के इंतेजाम कर लिए हैं। चूंकि कोचिंग संस्थान किराए कि बिंल्डिंग मे चल रही हैं, इसलिए इमरजेंसी गेट कि व्यवस्था अलग से नहीं कर सकते हैं। लेकिन बाकी कि जरूरी व्यवस्थाए कि जा रही हैं। बच्चो को भी अवेयर कर रहे हैं।

एडीएम नार्थ, सतीश कुमार शर्मा...... सभी कोचिंग कि जांच कर ली गई हैं। कोचिंग संचालको को अभी नोटिस दे रहे हैं। इसके के लिए सीमा निर्धारित कि गई हैं। इसके बाद भी यदि कोई नियमो का पालन नहीं करता है तो उनके खिलाफ कार्रवाई कि जाएगी।

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com