ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
गंभीर आरोप मे जेल मे बंद चार अपराधी जेल तोड़कर फरार।

नीमच। दुष्कर्म, हत्या, तस्करी के जैसे गम्भीर मामले मे जेल मे बंद 4 आरोपियों ने जेल से फरार होने का मामला सामने आया हैं।

सूत्रो के मुताबिक जेल से सलाखें काटने मे इस्तेमाल आरी के कुछ टुकड़े व एक मोबाइल मिला हैं। इससे मैसेज के जरिए आरोपी बाहरी मददगारों के संपर्क मे थे, पुलिस मोबाइल नंबर के आधार पर जांच कर रही हैं। कलेक्टर ने जेलर आरपी वसुनिया, डिप्टी जेलर रंबा चौहान व 4 जेल प्रहरी विजेंद्र धाकड़, ईश्वर कुमार, संचित शर्मा बालमुकुंद लवाना को सस्पेंड कर दिया गया हैं। घटना के बाद कमिश्नर अजीतकुमार, आईजी राकेश गुप्ता, डीआईजी गौरव राजपूत, जेल डीआईजी मंशाराम समेत स्थानीय अधिकारियों ने जेल का निरीक्षण किया। निरीक्षक के बाद कमिश्नर अजीतकुमार और आईजी राकेश गुप्ता ने कहा कि सब कुछ प्लानिंग के मुताबिक किया गया हैं। कैदी अपने रिश्तेदारो कि मदद से ही भागे हैं। आरी से  बैरक नंबर 11 के दो सरिए काटे, और फिर जेल के पिछले हिस्से से किसी साथी द्वारा फेंकी रस्सी को कैदियो ने पोल पर बांधा और एक-एक कर 30 फीट ऊंची दीवार फांग कर भाग गए। इनमे से दो कैदी नारसिंह बंजारा, पंकज मोगिया राजस्थान, लेखाराम बावरी, मल्हारगढ़, दुबेलाल धुर्वे, मंडला का रहने वाला हैं। जिला प्रशासन ने इस घटना कि मजिस्ट्रियल जांच के आदेश देते हुए, चारों अपराधियो  पर 50-50 हजार ईमान घोषित किया हैं।

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com