ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
सीएम गए व्यवस्थाये भी गई।

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) शनिवार को सीएम की छुट्टी के बाद लगता हैं। अस्पताल के सभी प्रबन्धको, कर्मचारियो की भी ड्यूटी भी पूरी हो गई हैं। सीएम के अस्पताल मे होने पर जिन भी व्यवस्थाओ का दिखावा किया गया था। अब उनके जाने के बाद व्यवस्थाए अपनी उसी स्थिति मे फिर आ गईं। रेडियोलॉजी डिपार्टमेन्ट के सामने वाली गली मे झाड़ू तो लगाई गई, लेकिन कचरे का ढेर सीढ़ियो के नीचे ही जमा कर दिया गया। कलमा नेहरू अस्पताल की बिल्डिंग के सामने स्थित रैन बसेरे का भी कुछ ऐसा ही हाल हैं, जहां कचरे के ढेर लगे हुए हैं और लोग मजबूरी मे यही बैठकर खाना खाते हैं। लोगो ने बताया की सुबह से यहाँ एक बार भी झाड़ू नहीं लगाई लगी हैं जबकि शनिवार को यहाँ पर चार बार झाड़ू लगवाई गई थी। रेडियोलॉजी डिपार्टमेन्ट के सामने मरीज स्ट्रेचर पर लेता हैं। ऑक्सीज़न भी लगी हैं। बताने पर भी कि पेट कि जांच होनी हैं। कोई वार्ड ब्वॉय नहीं आया। किसी का पता नहीं हैं। वही शनिवार को एक स्ट्रेचर को चार-चार वार्ड ब्वॉय खींच रहे हैं। यह हाल हैं सरकारी अस्पतालो और प्रशासन कि व्यवस्थाओ का, जहां किसी को भी अपनी ज़िम्मेदारी का एहसास नहीं हैं। सीएम के जाने के दिन बाद ही अस्पताल के हाल बेहाल हो गए हैं।

डॉ॰ एके श्रीवास्तव, अधीक्षक, हमीदिया अस्पताल- अस्पताल कि व्यवस्थाए मरीजो के लिए हमेशा बेहतर हो, यही कोशिश करते हैं। अगर किसी भी तरह की व्यवस्था मे लापरवाही की जा रही हैं तो और सख्ती करेंगे, ताकि लोगो को परेशानिया न हो।

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com