ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
पहले दिन बच्चो को खीर के नाम पर सिर्फ मीठे चावल और कडक पूरी दी गई बाल आयोग ने दिये जांच के आदेश।

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) आयोग को पहुंची निजी स्कूलो पर फीस व यूमीफ़ोर्म को लेकर बच्चो को स्कूल से भगाए जाने की शिकायत। वही दूसरी ओर जिला शिक्षा अधिकारी ने स्कूल मे प्रवेशोत्सव धूमधाम से मनाने का दावा किया। ओर पहले ही दिन एक शासकीय और दो निजी स्कूलो ने बच्चो को भगा दिया। इसमे 1100 क्वार्टस स्थित शासकीय भोज हायर सेकंडरी स्कूल, अशोका गार्डन के किडजी, कोटरा सुल्तानाबाद स्थित कमला नेहरू सीनियर सेकंडरी स्कूल शामिल हैं। वही सरकारी स्कूल मे परीक्षा चलने के कारण बच्चो को लौटा दिया गया। आयोग ने सोमवार को भोज हायर सेकंडरी स्कूल, ओल्ड कैंपियन स्कूल का निरीक्षण किया। तो पाया की यहा व्यवस्थाओ के नाम पर बेहालगी हैं। जहां बच्चो को खीर के नाम पर पाने मे भीगे मीठे चावल और कडक पूरी दी गई। डीईओ धर्मेन्द्र कुमार शर्मा का कहना हैं कि बाल आयोग और कलेक्टर ने जांच के आदेश दिये हैं। कलेक्टर और बाल आयोग को रिपोर्ट सौंपी जाएगी।

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com