ब्रेकिंग न्यूज़ पुडुचेरी। केंद्र जरूरत के हिसाब से हमें राज्य केंद्र शासित प्रदेश कहता है , ट्रांसजेंडर का दर्जा क्यों नहीं देता : नारायणसामी                राजस्थान। जयपुर के मयंक ने 21 साल की उम्र में जज बनने की उपलब्धि की हासिल।                  
कमलनाथ के मंत्री को नहीं मालूम कहाँ बैठना है

भोपाल/सीहोर। सीहोर तहसील कार्यालय कि लगातार मिल रही शिकायतों कि जांच के लिए मंगलवार को परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत बिना सूचना दिये पहुँच गए। और जाकर सीध तहसीलदार की कुर्सी पर बैठ गए। वे भूल गए की तहसीलदार डायस पर बैठने के दौरान एक न्यायालय की तरह काम करते हैं। मंत्री के साथ आए अफ़सरो ने जांच शुरू फाइलों कि तो कई खामिया सामने आई। सूचना मिलते ही कलेक्टर अजय गुप्ता भी मौके पर पहुंचे। फाइलों, आवेदनो कि बेहाल हालत देख कर मंत्री को गुस्सा आआ गया तहसील कार्यालय मे अनियमितताओ और लापरवाही पर तहसीलदार सुधीर कुशवाह को तुरंत सस्पेंड कर, सस्पेंड कि सूचना कमिश्नर को भेज दी। तहसीलदार ने नाराज मंत्री को मनाने के लिए उनकी कार के पास जाकर उनसे बात करने कि कोशिश कि लेकिन कुछ नहीं हुआ। वही भोपाल मे राजस्व मंत्री अधिकारी संघ ने हड़ताल कि धमकी दे दी। संघ के प्रांताध्यक्ष नरेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि यही तहसीलदार को सस्पेंड किया गया तो आंदोलन होगा।

मंत्री पर कानून के उल्लंघन का आरोप-  

गोविंद राजपूत सीधा जाकर तहसीलदार की कुर्सी पर बैठ गए। वे भूल गए की तहसीलदार डायस पर बैठने के दौरान एक न्यायालय की तरह काम करते हैं। साथ ओएसडी कमल नागर भी बैठ गए जबकि वो खुद राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं। राज्य प्रशासनिक सेवा संघ ने मंत्री पर कानून के उल्लंघन का आरोप लगा दिया। 

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com