ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
हरियाणा स्कूल मे बच्चो को उठक-बैठक कराई जाएगी। दंडस्वरूप नहीं, योग स्वरूप।

भिवानी। हरियाणा विधालय ने अब बच्चो से रोजाना उठक-बैठक कराई जाएगी। लेकिन यह दंडस्वरूप नहीं बल्कि योग स्वरूप होगी। जिससे बच्चो मे चुस्ती आ सके। शिक्षा बोर्ड के सचिव राजीव प्रसाद ने कहा की यह प्रक्रिया सुपर ब्रेन योग हैं। योग दिवस पर यह फैसला लिया गया हैं। शिक्षा बोर्ड भिवानी के सर्वपल्ली राधाकृष्णन लैब स्कूल मे प्रयोग के तौर पर इसी शिक्षा सत्र से इसकी शुरुआत होगी। गुरुवार से शिक्षको की ट्रेनिंग शुरू हो गई हैं। 8 जुलाई को स्कूल खुलने के बाद करीब 700 विधार्थियों को दो सेक्शन मे बांटा जाएगा। एक सेक्शन को योग कराया जाएगा। दूसरे को नहीं। दोनों सेक्शन के छात्रो का सालभर वैज्ञानिक तरीके से अध्ययन किया जाएगा। योग करने वाले विधार्थियों पर प्रयोग का असर सकारात्मक दिखा तो अगले सत्र से विभाग को सभी स्कूलो मे यह लागू करने के लिए लिखा जाएगा। प्रसाद का दावा है की सुपर ब्रेन योग से कान के नीचे के हिस्से के एक्युप्रेशर बिन्दु सक्रिय होकर मस्तिष्क की कार्यक्षमता बढ़ाने मे सहायक होते हैं। 10 से 12 उठक-बैठक के दौरान सांस नियंत्रण रखना होता हैं। इससे दिमाग के दोनों भाग संतुलित होते हैं। जो दिमाग को अत्यंत क्रियाशील बनाती हैं। और दिमाग से जुड़ी तकलीफ दूर होती हैं

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com