ब्रेकिंग न्यूज़ नई दिल्ली। प्रधानमंत्री इमरान खान बब्वर शेर है : नवजोत सिंह सिद्धू।                भोपाल। अयोध्या मामले के फैसले के बाद दिग्विजय के टवीट पर बड़ा विवाद।                शाहजहानाबाद। चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया।                मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                  
गोपाल भार्गव ने क्षेत्रीय और राष्ट्रीय टीवी न्यूज चैनलों पर पहले भड़के फिर ब्यान से पलटे।

 भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने टीवी न्यूज चैनल में पारिवारिक और निजी मामलों को दिखाए जाने पर रविवार को एक के बाद चार ट्वीट किए। भार्गव ने बिना किसी चैनल का नाम लिए उनकी मंशा पर भी सवाल उठाए। 

पहले ट्वीट में भार्गव ने  कहा- कि सोशल मीडिया और कथित राष्ट्रीय समाचार चैनल और उनके तनखैया एंकर टीआरपी बढ़ाने और रुपया कमाने की लालसा से एक आधुनिक लैला मजनू को दिखा रहे हैं। उनके दुःखी पिता और परिवार का मजाक बना रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि इस तरह की खबरों से कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं बढ़ेंगी।

दूसरे ट्वीट में भार्गव ने लिखा है कि- 'मेरे निजी विचार से यह चैनल अपनी टीआरपी बढ़ाने और रुपया कमाने के चक्कर मे बहुत बड़ा समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी कार्य कर रहे हैं। देश मे पिछले एक दशक से चल रहा "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" की योजना एवं राष्ट्रीय अभियान 50 वर्ष पीछे चला जायेगा।'

तीसरे ट्वीट में लिखा है कि- 'मेरा मानना है कि ऐसी खबरों से अब कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं देश मे अप्रत्याशित रूप से बढ़ेंगी। महिला पुरुष के लिंगानुपात में भारी अंतर आएगा जो हमें अगले तीन वर्षों में सामाजिक सर्वे में स्पष्ट रूप से दिखेगा। नर्सिंग होम एवं निजी अस्पतालों में गर्भपात का गौरखधंधा खूब फलेगा फूलेगा।' 

चौथे ट्वीट में भार्गव ने कहा है कि-  'धन्य है ऐसे समाज सुधारक खबरिया एवं राष्ट्रीय समाचार चैनल। अब टीवी और मोबाइल भारतीय परिवारों के लिए अभिशाप बनते जा रहे हैं। समय रहते समझदार लोग इस अभिशाप से मुक्ति पाएं तो परिवार सुखी रहेगा।'

 

भार्गव ने यह ट्वीट किस मामले के परिपेक्ष्य में किया है यह स्पष्ट नहीं है। हालांकि, पिछले एक हफ्ते से उत्तरप्रदेश के बरेली में भाजपा विधायक की बेटी साक्षी का मामला चर्चा में है। साक्षी ने शादी बाद एक वीडियो शेयर किया। इसमें उसने अपने विधायक पिता से जान का खतरा बताया है। वहीं, भोपाल का भी एक मामला शुक्रवार को चर्चा में आया। इसमें इलाहाबाद की रहने वाली एक युवती ने लव मैरिज की और फिर वीडियो शेयर कर अपने परिजनों पर परेशान करने का आरोप लगाया।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com