ब्रेकिंग न्यूज़ रायगढ़। 5 वर्षीया बच्ची से दुष्कर्म करने वाले मुंह बोले मामा को 10 साल की सजा                पेरिस। ‘टेम्पररी’ को निकालने में 70 साल लग गए, समझ नहीं आया कि हंसें या रोएं : प्रधानमंत्री मोदी                नई दिल्ली। मोदी को हमेशा बुरा कहना गलत, मुद्दों के आधार पर आकलन करें : कांग्रेस नेता सिंघवी।                मथुरा / जन्माष्टमी का जिम्मा निजी कंपनी को, श्रीकृष्ण का अभिषेक राजस्थानी गाय के दूध-घी से होगा                  
बजट के चलते रुक सकता हैं मेट्रो ट्रेन का काम।

भोपाल(सुलेखा सिंगोरिया) एम्स से सुभाष नगर मेट्रो ट्रेन के लिए खुदाई चल रही हैं। लेकिन यह खुदाई कब रोड के गड्डो का रूप ले ले कहाँ नहीं जा सकता हैं। 247 करोड़ से मेट्रो रूट के सिविल वर्क का यह काम कब रुक जाए इसका ठिकाना नहीं हैं। 6.941 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट के लिए इस साल अधिकतम 50 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद हैं। बजट मिलने का भरोसा नहीं होने के ही कारण मेटो के शेष रूट के टेंडर जारी नहीं हो रहे हैं। अकेले भोपाल मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए राज्य सरकार को 1388.20 करोड़ रुपए अंशदान देना हैं। 2023 तक पूरा करने के लिए हर साल औसतन 350 करोड़ रुपए केवल मैदानी कामकाज के लिए बजट मे रखना होगा। इसके अलावा लोन का भी इंतजाम करना होगा। जबकि हकीकत यह हैं कि पिछले वित्त वर्ष मे राज्य सरकार ने भोपाल और इंदौर मे मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए 200 करोड़ रुपए रखे थे। और इस साल 100 करोड़ रुपए रखे गए हैं। इस राशि से मैदानी काम के अवाला कंसलटेंट की फीस सहित अन्य खर्चो को भी पूरा किया जाना हैं।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com