ब्रेकिंग न्यूज़ नई दिल्ली। मोदी सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया से आगे सड़क पर होना : सोनिया गांधी                भोपाल। प्रो॰ अग्रवाल एपीएस विवि रीवा के कुलपति नियुक्त।                भोपाल। कमलनाथ के खिलाफ षड्यंत्र कर रही है भाजपा : पूर्व राज्यपाल कुरैशी।                विदिशा। मत भरो बिजली के बिल, वे लाइन काटेंगे, हम जोड़ देंगे : शिवराज सिंह चौहान                मध्य प्रदेश / 20 साल पहले सास फर्जी मार्कशीट से शिक्षक बनी थी, बहू की शिकायत पर बर्खास्त                अहमदाबाद। मुझे विश्वास है लोगों की जान बचाने के लिए सभी राज्य केंद्र का एक्ट लागू करेंगे : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी                नई दिल्ली - जो भारत विरोधी गतिविधियों में लगे हुए हैं, उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी : केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह                  
विधानसभा में कमलनाथ ने कहा- उदधोगपतियों से हाल-चाल पूछने पर उन्होने जवाब दिया, अधिकारी तो ठीक हैं, पटवारी से बचाइए।

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) विधानसभा में बजट चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक किस्सा सुनाते हुए कहा कि देश में उद्योगों के लिए अच्छा वातावरण बनाने के लिए कार्यप्रणाली में सुधार किए जाने चाहिए। कमलनाथ ने कहा कि एक उद्योगपति मेरे पास आए तो उनसे पूछा कि सब ठीक तो चल रहा है। उन्होंने कहा कि कलेक्टर व अन्य अधिकारी तो अच्छे हैं, लेकिन हमें पटवारी से बचाइए। वे पटवारी से दुखी थे। इस पर सीएम ने कहा कि सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता नौजवान हैं। उन्हें रोजगार प्रस्तुत कराना है और इसी को ध्यान में रखकर सरकार नीतियां बना रही है। मप्र को ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस’ का बड़ा केंद्र बनाएंगे। इस संबंध में मैंने एक प्रमुख कंपनी के चेयरमैन से चर्चा की है। हम ऐसी कंपनियों पर ध्यान देंगे, जो ज्यादा युवाओं को रोजगार देंगी। चीन की कंपनी ने इसमें रुचि दिखाई है। उनके प्रतिनिधियों को तत्काल आमंत्रित किया है। प्रदेश में बिजली स्टोरेज के क्षेत्र में भी रोजगार कि अपार संभावनाएं हैं। हम इस क्षेत्र में देश में लीड करेंगे। सीएम ने कहा कि पिछले 15 वर्षों में देश में जो इन्वेस्टमेंट हुआ, उसमें मप्र का हिस्सा बहुत कम है। उन्होंने कहा कि जीएसटी से मप्र को लाभ हुआ है। 

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com