ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
मिलावटी दूध के नमूने तो ले लिए मगर जांच कहाँ करवाएँगे ये पता नहीं।

भोपाल। दूध, मावा, घी मे हो रही मिलावट की जांच भोपाल, मुरैना, जबलपुर सहित प्रदेश के कई शहरों में सोमवार को कार्रवाई जारी रही। भोपाल में प्रशासन की टीम ने सांची, सौरभ, क्वालिटी और कपिला डेयरी प्लांट पर छापे मारकर दूध, मावा, घी, पेड़ा, छांछ और मिल्क पाउडर के नमूने लिए। टीम में एसडीएम हुजूर राजकुमार खत्री, एसडीएम गोविंदपुरा मनोज उपाध्याय के अलावा दो तहसीलदार, चार फूड इंस्पेक्टर शामिल थे। हालांकि इन नमूनों की जांच कैसे होगी, इस पर सवाल खड़े हो गए हैं, क्योंकि भोपाल के सरकारी और प्राइवेट डेयरी, मिल्क वेंडर्स द्वारा सप्लाई किए जा रहे दूध व अन्य उत्पादों में कौन-कौन से केमिकल, एंटीबायोटिक आदि मिलाए गए हैं, जरूरी उपकरण ही नहीं होने के कारण  ईदगाह हिल्स स्थित स्टेट फूड लेबोरेटरी में नहीं हो पाएगी।

एसपी भोपाल राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि टीम को सिंथेटिक दूध और मावा बनाने वाले 12 नए ठिकानों का भी पता चला है। इन पर दबिश शुरू हुई तो पता चला कि संचालक अपने मवेशी और चिलर प्लांट तक निकाल ले गए हैं। ऐसे रैकेट में शामिल सभी संदिग्धों की सूची भी तैयार की जा रही है। इन सभी को आरोपी बनाया जाएगा।

Advertisment
 
प्रधान संपादक उप संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी सुलेखा सिंगोरिय डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com