ब्रेकिंग न्यूज़ नई दिल्ली। मोदी सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया से आगे सड़क पर होना : सोनिया गांधी                भोपाल। प्रो॰ अग्रवाल एपीएस विवि रीवा के कुलपति नियुक्त।                भोपाल। कमलनाथ के खिलाफ षड्यंत्र कर रही है भाजपा : पूर्व राज्यपाल कुरैशी।                विदिशा। मत भरो बिजली के बिल, वे लाइन काटेंगे, हम जोड़ देंगे : शिवराज सिंह चौहान                मध्य प्रदेश / 20 साल पहले सास फर्जी मार्कशीट से शिक्षक बनी थी, बहू की शिकायत पर बर्खास्त                अहमदाबाद। मुझे विश्वास है लोगों की जान बचाने के लिए सभी राज्य केंद्र का एक्ट लागू करेंगे : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी                नई दिल्ली - जो भारत विरोधी गतिविधियों में लगे हुए हैं, उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी : केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह                  
मिलावटी दूध के नमूने तो ले लिए मगर जांच कहाँ करवाएँगे ये पता नहीं।

भोपाल। दूध, मावा, घी मे हो रही मिलावट की जांच भोपाल, मुरैना, जबलपुर सहित प्रदेश के कई शहरों में सोमवार को कार्रवाई जारी रही। भोपाल में प्रशासन की टीम ने सांची, सौरभ, क्वालिटी और कपिला डेयरी प्लांट पर छापे मारकर दूध, मावा, घी, पेड़ा, छांछ और मिल्क पाउडर के नमूने लिए। टीम में एसडीएम हुजूर राजकुमार खत्री, एसडीएम गोविंदपुरा मनोज उपाध्याय के अलावा दो तहसीलदार, चार फूड इंस्पेक्टर शामिल थे। हालांकि इन नमूनों की जांच कैसे होगी, इस पर सवाल खड़े हो गए हैं, क्योंकि भोपाल के सरकारी और प्राइवेट डेयरी, मिल्क वेंडर्स द्वारा सप्लाई किए जा रहे दूध व अन्य उत्पादों में कौन-कौन से केमिकल, एंटीबायोटिक आदि मिलाए गए हैं, जरूरी उपकरण ही नहीं होने के कारण  ईदगाह हिल्स स्थित स्टेट फूड लेबोरेटरी में नहीं हो पाएगी।

एसपी भोपाल राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि टीम को सिंथेटिक दूध और मावा बनाने वाले 12 नए ठिकानों का भी पता चला है। इन पर दबिश शुरू हुई तो पता चला कि संचालक अपने मवेशी और चिलर प्लांट तक निकाल ले गए हैं। ऐसे रैकेट में शामिल सभी संदिग्धों की सूची भी तैयार की जा रही है। इन सभी को आरोपी बनाया जाएगा।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com