ब्रेकिंग न्यूज़ मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                भोपाल। हनी ट्रेप महिलाओ ने किए कई बड़े खुलासे, पुलिस पर बना दवाब।                पुलवामा जैसी घटना ही महाराष्ट्र के लोगो का मूड बदल सकती हैं : शरद पवार।                महाराष्ट्र। हमें शिवसेना को डिप्टी सीएम का पद देने में कोई दिक्कत नहीं : मुख्यमंत्री फडणवीस।                  
पुलिस के गैरजिम्मेदारी और लापरवाही के चलते 11 साल के बच्चे की मौत।

केसली।(सागर) पुलिस की लापरवाही के चलते 11 साल के ऋषभ ने खोया अपना जीवन। बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट कराने पहुंचे परिजनो के साथ पुलिस प्रभारी ने अभद्र व्यवहार कर बिना रिपोर्ट दर्ज किए घर भेजा। जिसके चलते तीन दिन बाद झाड़ियो मे सडी हुई मिली बच्चे की लाश। केसली के वार्ड नंबर - 2 निवासी मज़दूर घनश्याम रैकवार का 11 साल का बेटा ऋषभ रविवार को शाम 6 बजे से गायब था। परिजनो के बहुत ढूँढने के बाद भी जब ऋषभ नही मिला तो परिजन पुलिस थाने पहुंचे। जहां पर नशे मे टुन प्रधान आरक्षक बालकिशन कोहली ने न ही परिजनो कि रिपोर्ट दर्ज की और साथ ही उनके साथ अभद्र व्यवहार किया। देर रात तक जब बच्चे की कोई खबर नहीं मिली तो पुलिस ने केस दर्ज किया। इसी बीच एक अज्ञात नंबर से बेटे की माँ को 3 लाख रू॰ की फिरौती के लिए कॉल किया गया। वही, प्रधान आरक्षक बालकिशन कोहली का एक वीडियो मंगलवार को सामने आने के बाद एसपी अमित सांघी ने उसे सस्पेंड कर दिया था। इसके बाद बुधवार को सुबह केसली से 6 किमी दूर घाना गाँव मे झाड़ियो के पास ऋषभ का शव मिला। उसके हाथ व गले मे सेलोंटेप लिपटा हुआ था। तीन दिन बाद मिली बच्चे की सडी-गली लाश को लेकर लोगो के आक्रोश फ़ेल गया हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस घटना पर दुख जताते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com