ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
पाबंदी के बाद भी पीओपी की 5 हजार मूर्तिया हुई तैयार।

भोपाल। कलेक्टर सुदाम पी खाड़े ने पिछली साल पीओपी कि मूर्तियो को लेकर कहा था कि अगली साल पीओपी मूर्तिया नहीं बनने दी जाएंगी। लेकिन कलेक्टर के आदेश का पालन करने के लिए शायद अफसरो के पास समय नहीं हैं। पर्यावरण के लिए हानिकारक शहर मे प्लास्टर ऑफ पेरिस की मूर्तियो के लिए निर्माण और बिक्री पर पाबंदी के बाद भी इस साल फिर राजधानी शहर मे 5 हजार पीओपी मूर्तिया बन कर तैयार हो गई हैं। और जिला प्रशासन को खबर भी नहीं हैं। इसी महीने से अब रंग भरने का काम भी शुरू हो जाएगा। लेकिन अफसरो को इतनी फुर्सत नहीं कि वह निगरानी रख सके कि कहा पीओपी मूर्तिया बनाई जा रही हैं। कोलार रोड, माता मंदिर, मैनिट चौराहा, पुराने शहर आदि जगहो पर रोक के बावजूद अफसरो कि लापरवाही के चलते 5 हजार पीओपी मूर्तिया रंगरोगन के तैयार हैं। भोपाल शहर मे 100 से ज्यादा मूर्तिकार हैं जो भोपाल से बाहर भी मूर्तियो की सप्लाई करते हैं। हर साल यहा करीबन 60 हजार पीओपी मूर्तियो को बेचने का व्यापार किया जाता हैं।  

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com