ब्रेकिंग न्यूज़ नई दिल्ली। मोदी सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया से आगे सड़क पर होना : सोनिया गांधी                भोपाल। प्रो॰ अग्रवाल एपीएस विवि रीवा के कुलपति नियुक्त।                भोपाल। कमलनाथ के खिलाफ षड्यंत्र कर रही है भाजपा : पूर्व राज्यपाल कुरैशी।                विदिशा। मत भरो बिजली के बिल, वे लाइन काटेंगे, हम जोड़ देंगे : शिवराज सिंह चौहान                मध्य प्रदेश / 20 साल पहले सास फर्जी मार्कशीट से शिक्षक बनी थी, बहू की शिकायत पर बर्खास्त                अहमदाबाद। मुझे विश्वास है लोगों की जान बचाने के लिए सभी राज्य केंद्र का एक्ट लागू करेंगे : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी                नई दिल्ली - जो भारत विरोधी गतिविधियों में लगे हुए हैं, उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी : केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह                  
बिना टेस्टिंग के ट्रैफिक के लिए ब्रिज खोलकर, कंस्ट्रक्शन कंपनी ने लापरवाही का दिया सबूत।

भोपाल। एयरपोर्ट रोड पर दाता कॉलोनी ओवर ब्रिज को बिना लोड टेस्टिंग के अपने स्तर पर ही ट्रैफिक के लिए खोलकर किया लोगो की जान के साथ खिलवाड़। ब्रिज निर्माण एजेंसी और कंस्ट्रक्शन कंपनी लोगो के प्रति कितनी लापरवाह है इससे अंदाजा लगाया जा सकता हैं। हैरान करने वाली बात यह हैं कि दिल्ली की कंस्ट्रक्शन कंपनी सेंट्रोडोरस्ट्रॉय (सीडीएस) ने नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अफसरों ने जानकारी होने के बावजूद भी आम राहगीरों की जान के साथ खिलवाड़ होने दिया। शुक्र है कि किसी भी बड़े हादसे के पहले ही कंस्ट्रक्शन कंपनी कि यह लापरवाही सामने आ गई। अब एनएचएआई के अफसर तर्क दे रहे हैं कि कंपनी की जल्दबाजी में यह गड़बड़ी हुई है।

उधर, ब्रिज धंसकने के बाद कलेक्टर ने कहा है कि कंपनी ब्रिज के इस पूरे हिस्से का नए सिरे से काम करेगी। टेस्टिंग के बाद ही यहां ट्रैफिक शुरू होगा। ब्रिज को धंसकने से बचाने के लिए और वाहनों के वाइब्रेशन से ब्रिज को नुकसान न हो इसके लिए अभी फिलहाल में बुधवार को ब्रिज के नीचे सड़क के दोनों ओर बेरिकेडिंग कर दी गई है। इसके चलते होने वाले ट्रैफिक को कम करने का कोई दूसरा विकल्प नहीं हैं। जाम का लगना तय हैं वही, ब्रिज के ट्रैफिक शुरू नहीं होने तक करीबन 2 लाख लोग रोज परेशान होंगे। व्यस्त दिन में हर घंटे गुजरने वाले 6 हजार वाहनों के अलावा दाता कॉलोनी, इंद्रा विहार कॉलोनी, पंचवटी, सुविधा विहार सहित 20 से ज्यादा कॉलोनियां, गांधी नगर क्षेत्र, हज हाउस, एयरपोर्ट, आरजीपीवी, जेल, द्रोणांचल आने-जाने वाले लोग रोज ट्रैफिक जाम में फंसेंगे। सीडीएस कंपनी का कहना है कि ब्रिज हमने सरकार को हैंडओवर नहीं किया है। बारिश के बाद रिपेयर का काम शुरू करेंगे।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com