ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
मेट्रो का काम बिना ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान के शुरू करने से सड़कों पर फस रहे हजारो कि संख्या मे वाहन।


भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) अरेरा हिल्स, बोर्ड ऑफिस चौराहा, रचना नगर अंडरब्रिज और चेतक ब्रिज तक के पूरे एरिया में पीक ऑवर में ट्रैफिक जाम स लोग परेशान हो रहे, हजारो कि तादात मे वाहन चालक जाम मे फसे रहते हैं। इसका कारण है एम्स से सुभाष नगर तक 6.22 किमी के मेट्रो रूट के कंस्ट्रक्शन का काम बिना किसी ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान के ही शुरू कर दिया गया। मेट्रो रेल कंपनी ने ट्रैफिक पुलिस को केवल काम शुरू करने की जानकारी दी है और ट्रैफिक डायवर्जन की पूरी जिम्मेदारी ट्रैफिक पुलिस के हवाले कर दी है। सड़क पर लंबे समय तक चलने वाले मेट्रो प्रोजेक्ट के ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान के लिए किसी एक्सपर्ट एजेंसी की सेवाएं ली जाना चाहिए थीं, लेकिन कंपनी ने इसका ध्यान नहीं रखा। सड़क पर लंबे समय तक चलने वाले मेट्रो प्रोजेक्ट के ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान के लिए किसी एक्सपर्ट एजेंसी की सेवाएं ली जाना चाहिए थीं, लेकिन कंपनी ने इसका ध्यान नहीं रखा। अभी मेट्रो रूट के सिविल वर्क का काम शुरुआती चरण में है। सुभाष नगर रेलवे क्रासिंग के सामने, मैदा मिल पर, गुरुदेव गुप्ता चौराहे पर और एम्स के सामने केवल इन चार स्थानों पर कहीं सड़क के बीच में तो कहीं साइड में बैरिकेडिंग की है। इनमें से केवल एम्स के सामने ही मशीनों से खुदाई होती नजर आ रही है। शेष सभी जगहों पर काम ठप पड़ा है। इस बैरिकेडिंग का नतीजा है कि सड़कें 10 से 20 फीट तक संकरी हो गईं हैं। बारिश के कारण फैलते कीचड़ और गड्ढों के कारण परेशानियां हो रही है। 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com