ब्रेकिंग न्यूज़ शाहजहानाबाद। चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया।                मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                  
स्वास्थ मंत्री के निर्देशों के बाद भी कार्रवाई मे कोई फुर्ती नहीं।

भोपाल। स्वास्थ मंत्री के बार बार निर्देश देने के बाद भी सैंपल की जांचो मे अभी तक कोई फुर्ती नहीं आई हैं। स्वास्थ मंत्री तुलसीराम सिलावट ने दो सप्ताह पहले कंट्रोलर फूड एंड ड्रग रविन्द्र सिंह को प्रदेशभर से खाद्द अधिकारियों द्वारा भेजे जा रहे सैंपल की जांच 14 दिन के बजाय 4 दिन मे देने के निर्देश दिये थे। लेकिन मंत्री के निर्देशों का भी कोई पालन नहीं किया जा रहा हैं। सोमवार को भोपाल मावा व्यापारी संघ ने मिलावटी खाद्द पदार्थो की बिक्री रोकने के नाम पर खाद्द अमले द्वारा की जा रही कार्रवाई के विरोध मे अनिश्चत्कालीन हड़ताल शुरू कर दी। स्टेट फूड लैबोरेटरी के रिटायर फूड एनालिस्ट चतुर्भुज मीणा ने बताया कि चार साल पहले तक त्योहारी सीजन मे खाद्द पदार्थ के जमा सैंपल की जांच रिपोर्ट 24 घंटे मे देने की व्यवस्था थी। यह व्यवस्था लैब मे तत्कालीन कंट्रोलर फूड एंड ड्रग अश्विनी कुमार राय ने की थी। जो वर्ष 2015 तक लागू रही, और इसके बाद यह व्यवस्था बंद हो गई।  भोपाल ले मावा व्यापारी संघ के सचिव दर्पण कुमार जैन ने बताया कि खाद्द अधिकारी मिलावट की आशंका बताकर दुग्ध उत्पादो के सैंपल लेने के साथ संबंधित खाद्द पदार्थ को सील कर रहे हैं लेकिन, जांच रिपोर्ट 14 दिन बाद भी नहीं दे रहे हैं। इससे दुग्ध उत्पाद, सेल्फ लाइफ पूरी होने के कारण खराब हो रहे हैं। खाद्द अमले की इस तरह की कार्रवाई का खामियाजा व्यापारियो को नुकसान के रूप मे भरना पड़ रहा हैं।

तुलसीराम सिलावट, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री- दूध-घी और अन्य खाद्द पदार्थ का ईमानदारी से व्यवसाय करने वालों को डरने और चिंता करने की ज़रूरत नहीं हैं। सरकार ईमानदारी से कारोबार करने वालों के साथ हैं। व्यापारी अपनी परेशानी कलेक्टर को बताए।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com