ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
एम्स प्रबंधन ने रैगिंग के आरोप मे 9 छात्रो को किया सस्पेंड।

भोपाल। मंगलवार को जूनियर छात्रों की रैगिंग करने वाले नौ छात्रों को सस्पेंड कर हॉस्टल से निकाल दिया गया है। एम्स प्रबंधन ने आरोपी के बयान लेने के बाद ये फैसला लिया। 18 अगस्त को सीनियरों के द्वारा प्रथम वर्ष के छात्राओ की रैगिंग ली थी। इसकी शिकायत जूनियर छात्रो ने एंटी रैगिंग हेल्पलाइन पर की। जूनियर छात्रो ने अपनी शिकायत ने बताया कि सेकंड ईयर के छात्राओ द्वारा उनके साथ बुरा बर्ताव किया जाता हैं। हॉस्टल मे रहने वाले सीनियर छात्र कम कराते हैं। काम नहीं करने पर उनके साथ गली गलौच और मारपीठ भी कि जाती हैं। यही नहीं शारीरिक रूप से भी प्रताड़ित किया जाता है। प्रबंधन ने एंटी रैगिंग कमेटी कि बैठक बुलाई और दोषी छात्राओ को पर कार्रवाई कि गई हैं। बैठक के बाद एम्स प्रबंधन ने रैगिंग मे शामिल छात्रो छह छात्रो को एक-एक महीने और तीन छात्रो को छह-छह महीने के लिए निलंबित कर दिया, साथ ही हॉस्टल भी खाली करा लिया गया।

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com