ब्रेकिंग न्यूज़ मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                भोपाल। हनी ट्रेप महिलाओ ने किए कई बड़े खुलासे, पुलिस पर बना दवाब।                पुलवामा जैसी घटना ही महाराष्ट्र के लोगो का मूड बदल सकती हैं : शरद पवार।                महाराष्ट्र। हमें शिवसेना को डिप्टी सीएम का पद देने में कोई दिक्कत नहीं : मुख्यमंत्री फडणवीस।                  
मोदी की भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी लहर मे 9 भोपाल समेत 22 अधिकारियों का सफाया।

नई दिल्ली/ भोपाल। नरेंद्र मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ की बड़ी कार्रवाई। सरकारी विभागों की सफाई यानी भ्रष्‍टाचार और अन्य मामलों के आरोपी अफसरों को निकालने का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड के सीनियर अधिकारियों को भ्रष्टाचार करने के आरोप के चलते समय से पहले ही जबरन रिटायर कर दिया गया  है। केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) ने 22 वरिष्ठ अधिकारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दे दी है। सुपरिंटेंडेंट रैंक के ये अफसर भ्रष्टाचार और अन्य मामलों में आरोपी हैं। इसलिए, सेंट्रल सिविल सर्विसेज (पेंशन) रूल्स, 1972 के तहत जनहित में कार्रवाई के मूलभूत अधिकार का इस्तेमाल करते हुए सरकार ने इन्हें रिटायर कर दिया। सीबीआईसी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

टैक्स अफसरों के खिलाफ जून से अब तक इस तरह की तीसरी कार्रवाई की गई है। इससे पहले सीबीआईसी के कमिश्नर स्तर के 15 और आयकर विभाग के 12 अधिकारियों को हटाया गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों स्वतंत्रतता दिवस के संबोधन में भी कहा था कि कर विभाग में कुछ लोगों ने अधिकारों का दुरुपयोग कर करदाताओं को प्रताड़ित किया।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com