ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
देश की विकास दर स्तर और नीचे लुढ़क कर 5% पर।

भोपाल। देश की विकास दर लगातार जारी हैं इस साल की तिमाही (अप्रैल–जून) मे विकास दर घटकर 5% हो गई हैं। विकास में आई इस सुस्ती का असर  (जीडीपी) के आंकड़ों में दिखने लगा है। यह पिछले छह साल में सबसे कम वृद्धि रही है। जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही मे यह आकंडा 8% था। अप्रैल-जून में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की ग्रोथ में तेज गिरावट और कृषि सेक्टर में सुस्ती की वजह से जीडीपी ग्रोथ पर ज्यादा असर हुआ। मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की ग्रोथ घटकर 0.6% रह गई। जनवरी-मार्च में 3.1% थी। पिछले साल अप्रैल-जून में 12.1% थी। इससे पहले ऐसे हालत 2006 मे बने थे। पिछले महीने जुलाई मे सरकार द्वारा पेश किए गए आर्थिक सर्वे मे जीडीपी के 7% रहने के अनुमान लगाया गया था।

मुख्य आर्थिक सलाहकार केवी सुब्रमणियन ने कहा है कि घरेलू और अंतरराष्ट्रीय वजहों से ग्रोथ में गिरावट आई। आर्थिक विकास में तेजी के लिए सरकार लगातार कोशिशें कर रही है। जल्द ग्रोथ में सुधार होगा। हालात पर सरकार की नजर है। बैंकों के मर्जर समेत कई कदम उठाए जा रहे हैं।

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com