ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
मिलावट की जांच से परेशान कारोबारियों से गैस राहत मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री ने की मुलाक़ात।


भोपाल। मिलावट की जांच के दौरान कारोबारियों को हो रही परेशानियों के चलते शुक्रवार शाम को गैस राहत मंत्री आरिफ अकील और स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के साथ शहर के मावा, दूध, पनीर और मिठाई के सभी व्यापारियो की पुराने शहर में स्थित सिकंदरी सराय में बैठक हुई। बैठक के दौरान व्यापारियों ने स्वास्थ्य मंत्री के समक्ष अपनी परेशानी रखते हुए कहा कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अफसरों द्वारा की जा रही कार्रवाई के बाद 10 नंबर मार्केट के एक कारोबारी ने व्यापार बंद कर दिया है। स्थिति यह है कि मावा, पनीर और दूध की जांच में फैट कम मिलने पर भी व्यापारियों के खिलाफ एफआईआर हो रही है जबकि व्यापारी दूध किसानों से खरीदता है। ऐसे में उसका क्या दोष है, उनके खिलाफ मिलावट के मामले में एफआईआर होना चाहिए न कि फैट कम होने के मामले में। इस पर स्वास्थ्य मंत्री सिलावट ने व्यापारियो को आश्वासन देते हुए खाद्य एवं औषधि प्रशासन के कंट्रोलर रवींद्र सिंह से कहा कि जबरन किसी व्यापारी को परेशानी न किया जाए। हालांकि दूध में फैट बढ़ाने के लिए यदि कोई मिलावट करता है तो एफआईआर दर्ज की जाएगी। मावा व्यापारी एसोसिएशन के सचिव दर्पण कुमार जैन ने बताया कि मंत्री ने आश्वासन दिया है कि दूध व मावे में कम फैट मिलने पर एफआईआर नहीं की जाएगी। जबकि अलग से यदि कोई मिलावट पाई जाती है तो कार्रवाई करेंगे।

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com