ब्रेकिंग न्यूज़ मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                भोपाल। हनी ट्रेप महिलाओ ने किए कई बड़े खुलासे, पुलिस पर बना दवाब।                पुलवामा जैसी घटना ही महाराष्ट्र के लोगो का मूड बदल सकती हैं : शरद पवार।                महाराष्ट्र। हमें शिवसेना को डिप्टी सीएम का पद देने में कोई दिक्कत नहीं : मुख्यमंत्री फडणवीस।                  
लोहामंडी, लाइसेन्स को लेकर कलेक्टर को देंने होंगे व्यापारियो के सवालो के जवाब।

भोपाल। व्यापारियो से वसूले जा रहे जुर्माने के चलते व्यवसायी कलेक्टर से सवाल करने के लिए खड़े हो रहे हैं। व्यापारियो का कहना हैं कि अगर हम टायर बेचते हैं तो अपने ग्लो साइन बोर्ड पर टायर बनाने वाली कंपनी का नाम तो लिखेंगे ही। आप इसे किसी कंपनी का कमर्शियल होर्डिंग बताकर जुर्माना कैसे लगा सकते हैं? गुमाश्ता लाइसेंस जब व्यापारी के पास है तो उसे व्यावसायिक लाइसेंस अलग से क्यों लेना पड़ रहा है? 600 रुपए का यह लाइसेंस न लेने पर 5000 रुपए का जुर्माना लग रहा है। लोहामंडी जब मंजूर हो चुकी है तो उसके डेवलपमेंट का काम क्यों नहीं हो रहा?  भोपाल कलेक्टर पिथौड़े को इन सवालों के जवाब देने होंगे। दरअसल, राज्य सरकार की पहल पर जल्द ही राजधानी के प्रमुख व्यापारिक एसोसिएशन की बैठक कलेक्टर के साथ होगी। इसके लिए एजेंडा तैयार करने का काम चल रहा है। यह काम जिला उद्योग और व्यापार केंद्र (डीआईसी) कर रहा है। उसके अधिकारी फोन करके व्यापारिक एसोसिएशन से उनकी समस्याएं और सुझाव मांग रहे हैं। एसोसिएशन से उनकी लंबे समय से लंबित मांगों के बारे में भी पूछा जा रहा है। पहले चरण में 5 एसोसिएशन के प्रमुखों के साथ कलेक्टर बैठक कर सकते हैं। व्यापारिक संगठनों की माने तो यह पहला मौका है जब खुद जिला प्रशासन कारोबार में आ रही समस्याओं के समाधान के लिए पहल कर रहा है। यह बैठक इस माह के अंत तक होगी।

 

 

 

 

 

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com