ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
मंत्रियो की असहमति के चलते कमलनाथ ने 4 फीसदी ब्याजदर के प्रस्ताव पर लगाई रोक।

भोपाल। कैबिनेट की बैठक के दौरान मंत्रियो के बीच 4 फीसदी ब्याजदर पर असहमति के चलते मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रस्ताव रोक दिया हैं। कुछ मंत्री पक्ष में तो कुछ इसके विरोध में इसलिए फिलहाल विधायकों को वाहन खरीदने के लिए 4 फीसदी ब्याजदर पर 15 लाख रुपए का कर्ज नहीं मिल सकेगा। अब इस पर नए सिरे से चर्चा होगी, तब तक विधायकों को गाड़ी के लिए कर्ज नहीं मिलेगा। बताया जा रहा है कि विधानसभा की सदस्य सुविधा समिति ने गाड़ी के कर्ज के साथ होमलोन का भी प्रस्ताव दिया था। पिछली विधानसभा में विधायकों को गाड़ी के लिए 15 लाख और घर के लिए 25 लाख रुपए का कर्ज कम ब्याजदर पर मिलता था। इसे मौजूदा विधानसभा में भी बढ़ाकर लागू करने का प्रस्ताव था। गाड़ी के लिए 15 से 20 लाख और घर के लिए 25 से 50 लाख रुपए। मामला वित्त विभाग के पास पहुंचा तो उसने घर के लिए कर्ज का मामला विधानसभा को फिर से चर्चा के लिए लौटा दिया। गाड़ी के प्रस्ताव को बिना वृद्धि के आगे बढ़ा दिया। यही प्रस्ताव गुरुवार को कैबिनेट की बैठक में रखा गया। चूंकि यह प्रस्ताव सीधे कैबिनेट में आया था इसलिए खुद संसदीय कार्यमंत्री डॉ. गोविंद सिंह और मंत्री पीसी शर्मा ने विरोध कर दिया।

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक उप संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी सुलेखा सिंगोरिय डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com