ब्रेकिंग न्यूज़ शाहजहानाबाद। चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया।                मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                  
आरोप.....कलेक्टर शैलेंद्र ने मुझे बनाया बंधक : एसडीएम रवीश श्रीवास्तव।

होशंगाबाद। अवैध रेत परिवहन के मुद्दे पर गुरुवार देर रात होशंगाबाद कलेक्टर शीलेंद्र सिंह की एसडीएम रवीश श्रीवास्तव (डिप्टी कलेक्टर) से जमकर विवाद हुआ। रेत डंपरों पर कार्रवाई करने गए एसडीएम को नाराज कलेक्टर ने पहले अपने बंगले पर बुलाया। फिर ऑफिसर्स क्लब की फाइल नहीं देने के साथ ही भाजपा विधायक सीतासरन शर्मा के भतीजे वैभव शर्मा के रेत स्टॉक के बाहर खड़े डंपरों पर कार्रवाई को लेकर एसडीएम से सवाल पूछे। जब बहस बढ़ गई तो कलेक्टर ने एसडीएम को पद से हटा दिया। उनसे सरकारी गाड़ी वापस ले ली।

एसडीएम ने पत्र लिखकर शिकायत प्रमुख सचिव कार्मिक से की, तो बात भोपाल में मंत्रालय तक पहुंच गई। दबाव बढ़ा और तीन घंटे बाद कलेक्टर ने एसडीएम को बंगले से पैदल ही जाने दिया। कलेक्टर ने पूरी रिपोर्ट संभागायुक्त को भेजी, जिस पर एसडीएम को नोटिस दे दिया गया। फिलहाल श्रीवास्तव छुट्‌टी पर चले गए हैं। उनकी जगह रात में ही आदित्य रिछारिया को नया एसडीएम बना दिया गया। बताया गया है कि घटना के वक्त एडीएम केडी त्रिपाठी, तहसीलदार शैलेंद्र सिंह बडोनिया, नायब तहसीलदार ललित सोनी सहित लिपिक और ड्राइवर कलेक्टर बंगले पर मौजूद थे।

 

कलेक्टर शीलेंद्र सिंह :- हाईकोर्ट में ऑफिसर्स क्लब की जमीन का मामला विचाराधीन है। महाधिवक्ता ने इसकी फाइल बुलाई थी। गुरुवार देर रात तक जब फाइल नहीं दी तो तहसीलदार, एसडीएम को पूछताछ के लिए बुलाया था। एसडीएम के खिलाफ कई शिकायत पहले भी मिली हैं। इसलिए उन्हे निकाला गया हैं। घर कोई मिलने आए और बाहर जाकर खुद को बंधक कहने लगे तो उसमें मैं क्या कर सकता हूं।  

एसडीएम श्रीवास्तव :- पूरे प्रदेश में खनिज पोर्टल बंद करने के निर्देश के बाद भी एक ही फर्म का परमिशन चालू था। इसकी जांच करने गया था। खनिज इंस्पेक्टर और नायब तहसीलदार समेत खनिज अमले को भी बुलाया था, कोई नहीं आया। कार्रवाई करने से पहले ही कलेक्टर ने बंगले पर बुला लिया। मुझे तीन घंटे तक बंगले पर बंधक बनाकर रखा। साहब की असल नाराजगी रेत को लेकर थी। 

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com