ब्रेकिंग न्यूज़ शाहजहानाबाद। चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया।                मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                  
रेत परिवहन पर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह और एसडीएम रवीश श्रीवास्तव के विवाद से सीएम ने जताई नाराजगी।

भोपाल।  रेत परिवहन मामले मे बुधवार को कलेक्टर शीलेंद्र सिंह की पैरवी करने के लिए होशंगाबाद बिल्डर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी चंद्रभान सिंह मुख्यमंत्री से मिलने पहुंचे। जहां एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने सीएम से कहा कि एसडीएम रवीश श्रीवास्तव को तत्काल पद से हटा देना चाहिए। एसोसिएशन के मुताबिक इस पर सीएम ने कहा कि दो दिन इंतज़ार कीजिए, जल्द कार्रवाई की जाएगी। इधर, कमिश्नर रवींद्र कुमार मिश्रा की जांच रिपोर्ट मुख्य सचिव एसआर मोहंती और सामान्य प्रशासन विभाग की प्रमुख सचिव दीप्ति गौड़ मुखर्जी के पास पहुंच चुकी है। जांच में अफसरों की गलती सामने आई है। सीएस के दिल्ली से लौटने पर कार्रवाई पर फैसला होगा।


खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल का कहना है कि शिकायतों से स्पष्ट है कि अपेक्षित कार्रवाई नहीं हो पा रही है। इसलिए कलेक्टर, एसपी और संभागायुक्त की जिम्मेदारी तय किए जाने की जरूरत है। अवैध रेत खनन के मामलों में अब कलेक्टर और एसपी पर भी कार्रवाई होगी। खनिज विभाग इसका प्रस्ताव तैयार कर रहा है। नई रेत नीति में इसे भी शामिल किया जाएगा। प्रदेश में होशंगाबाद, हरदा, सीहोर, जबलपुर, नरसिंहपुर, रायसेन, सीहोर, देवास, श्योपुर, भिंड, मुरैना, दतिया आदि जिले में रेत के अवैध खनन की शिकायतें शासन के पास पहुंची हैं। ये मुख्य रूप से रेत के स्टॉक की है।
पर्यावरण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा- ई-पोर्टल बंद होना था। किन जिलों ने इसका उल्लंघन किया है, इसकी 3 दिन में रिपोर्ट मांगी है, ताकि प्रकरण दर्ज कराया जाए। वहीं खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल ने कहा कि होशंगाबाद कलेक्टर ने बिना पीसीबी की मंजूरी के ईटीपी जारी की है तो निश्चित कार्रवाई होगी।

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com