ब्रेकिंग न्यूज़ शाहजहानाबाद। चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया।                मप्र / राज्य सरकार ने वैट 5% बढ़ाया, भोपाल में आज से पेट्रोल 2.91 रु. और इंदौर में 3.26 रुपए महंगा                इंदौर। मैं किसी श्वेता को नहीं पहचानता, सबके नाम उजागर होने चाहिए : पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह                  
घोटकी पर हमले के बाद वही की एक हिन्दू युवती का पाक सिंध प्रांत के मेडिकल कॉलेज मे मिला शव।

पाक के एक मेडिकल कॉलेज के बेड पर मिला, एक हिन्दू लड़की का शव। परिवार वालों ने कहा यह खुदखुशी नहीं, हत्या हैं। पाकिस्तान के सिंह प्रांत के मेडिकल कॉलेज मे घोटकी मे रहने वाली एक हिन्दू लड़की नम्रता चंदानी का शव रूम के चारपाई पर मृत मिला। हाल ही मे कुछ दिन पहले घोटकी पर हमला भी हुआ था। आशंका हैं कि यह हत्या मे भी किसी की साजिश हो सकती हैं। वही नम्रता के भाई डॉ॰ विशाल का कहना हैं कि मेरी बहन खुदखुशी नहीं कर सकती, यह हत्या हैं। कहा कि पुलिस हत्या को छिपाने कि कोशिश कर रही हैं। खुदखुशी के मार्क अलग होते है उसके गले मे तार के निशान थे। हाथों पर चोट के निशान थे। जबकि पुलिस नम्रता के गले मे दुपट्टा बंधे होने कि बात कर रही हैं। तो फिर तार के निशान कैसे आए। नम्रता के परिवार वालो ने बताया कि कुछ लोगो ने मरने के बाद नम्रता को मुस्लिम बनाने की कोशिश की हैं। वही, नम्रता की सहेली का कहना हैं कि हमे बताया गया था कि मरने वाली लड़की हिन्दू नहीं बल्कि मुस्लिम हैं। इस मामले को बढ़ाने कि ज़रूरत नहीं हैं। नम्रता कि हत्या और घोटकी पर हुए हमले कि वजह हैं सिंध पब्लिक स्कुल के प्रिंसिपल नोतन लाल पर लगे आरोप। दरअसल, पिछले हफ्ते प्रिंसिपल नोतन ने 11वी क्लास का दौरा किया। इस दौरान उन्होने टीचर को सलाह दी कि पैगंबर मोहम्मद के बारे मे हर अच्छी बात बताई जाए, ताकि बच्चो पैगंबर के बारे ने जन सके। इसके दो दिन बाद एक छात्र ने फेसबुक के जरिए आरोप लगाया कि प्रिंसिपल ने  पैगंबर कि निंदा की हैं। पोस्ट वायरल होने के बाद कुछ धार्मिक संगठनो के लोगो ने एक मंदिर तोड़ दिया। साथ ही हिन्दुओ की पाँच दुकाने तोड़ दी। उसके बाद से हिन्दूओ के मोहल्लो मे सन्नाटा हैं।

 

 

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com