ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
पिता का आरोप... कंपनी से निकले जहरीले धुएं के कारण गई बेटी की जान।

भोपाल। मंडीदीप की वायु मे फैली जहरीली धुएं ने ली 16 वर्षीय दिशा जैन ली जान। संदेह मे आई सांवरिया और एचईजी फैक्ट्री को पुलिस ने घेरे में लेते हुए शुक्रवार को नोटिस जारी किया। मंडीदीप में वायु प्रदूषण का स्तर दिन-व-दिन तेजी से बढ़ रहा है, जो न सिर्फ लोगों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक बन रहा है, बल्कि उनकी जान पर भी बन गया हैं। गुरुवार को एक कंपनी से निकले जहरीला धुआ पटेल नगर निवासी सुबोध जैन की 16 वर्षीय बेटी दिशा जैन की मौत कारण बना। पिता का कहाँ हैं की दो हिचकी आई और डिश की मौत हो गई साथ ही आरोप लगाया है कि मेरी बेटी की जान कंपनी से निकले धुएं के कारण गई है, लेकिन वही, पोस्टमार्टम रिपोर्ट इससे बिल्कुल अलग है। पीएम करने वाले डॉक्टर ने आहार नली में खाना अटकने का कारण बताया है, पिता का कहना हैं कि मेरी बेटी ने तो खाना खाया ही नहीं था। शाम 6 बजे सिमैया खाई थी। एक घंटे बाद दिशा ने चाय पी और रात 9 से 9:30 बजे के बीच उसे दो हिचकी आईं। जैन ने कहा कि यदि उसकी आहार नली में खाना फंसा होता तो वह चिल्लाती या फिर पानी पीती, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।

 

संदेश के चलते पुलिस ने सांवरिया और एचईजी फैक्ट्री को नोटिस भेजा। नोटिस के जबाव मे सांवरिया प्रबंधन ने कहा था कि कंपनी 2 महीने से बंद है। वहीं, एचईजी के एचआर महाप्रबंधक सुनील कटारिया ने सोमवार को नोटिस का जवाब देते हुए कहा कि एसीसी प्लांट में सभी प्रोडक्शन उपकरण के साथ प्रदूषण नियंत्रण उपकरण लगे हैं, जो मशीनों के साथ इंटरलॉक्ड हैं। उपकरणों के नहीं चलने पर प्रोडक्शन ऑटोमेटिक बंद हो जाता है। उपरोक्त समय पर एलपीजी प्लांट पूर्णता सामान्य रूप से चल रहा था, कहीं से भी कोई भी धुआं अथवा राखड़ का उत्सर्जन नहीं हुआ।

Advertisment
 
प्रधान संपादक उप संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी सुलेखा सिंगोरिय डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com