ब्रेकिंग न्यूज़ सीएम ने महाराष्ट्र के समाजसेवी सागर रेड्डी को दिया प्राध्यापक यशवंत केलकर पुरस्कार                ढाई दिन उपमुख्यमंत्री रहने के बाद अजित पवार ने दिया इस्तीफा                 पुडुचेरी। केंद्र जरूरत के हिसाब से हमें राज्य केंद्र शासित प्रदेश कहता है , ट्रांसजेंडर का दर्जा क्यों नहीं देता : नारायणसामी                राजस्थान। जयपुर के मयंक ने 21 साल की उम्र में जज बनने की उपलब्धि की हासिल।                  
केंद्र सरकार ने पाँचवी बार रिश्वतखोर 21 भ्रष्ट अफसरो को किया जबरन रिटायर।

इंदौर। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने आयकर विभाग में भोपाल में पदस्थ इंस्पेक्टर आरसी गुप्ता और इंदौर के अजय विरेह समेत देशभर के 21 भ्रष्ट अफसरों को जबरन रिटायर कर दिया गया हैं।यह पंचवा मौका हैं जहां केंद्र सरकार ने भ्रष्ट अधिकारियों को जबरन रिटायर किया है। रिटायर गुप्ता के खिलाफ भोपाल के टायर कारोबारी ने जून 2017 में सीबीआई को शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके खाते में 2009 में 16 लाख रुपए आए थे। गुप्ता ने उन्हें इस पर 30 फीसदी टैक्स और पेनल्टी लगाने की चेतावनी देते हुए कैलकुलेटर पर 50 हजार रुपए लिखकर रिश्वत मांगी। बाद में 20 हजार रुपए पर अड़ गए। मामले में अभी ट्रायल चल रहा है। विरेह पर एक करदाता को बचाने के एवज में 9 लाख रुपए मांगने का आरोप है। इसी मामले में वे जेल जा चुके हैं। विरेह फिलहाल इंदौर रीजन के उज्जैन कार्यालय में पदस्थ हैं। ये सभी ग्रुप-बी स्तर के इनकम टैक्स ऑफिसर हैं। अब तक 85 अधिकारियों को जबरन हटाया जा चुका है।

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक सहायक-संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी राकेश शर्मा डॉ मीनू पांडे
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com