ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
डॉक्टर के बदसलूकी के चलते हमीदिया अस्पताल फिर बना चर्चा का विषय।

भोपाल।(सुलेखा सिंगोरिया) डॉक्टर्स की लापरवाही और स्टाफ के व्यवहार को लेकर हमेशा चर्चाओ मे रहने वाला हमीदिया अस्पताल एक बार फिर सुर्खियों में है। इस बार मामला वरिष्ठ डॉक्टर के द्वारा दूसरे डॉक्टर से बदसलूकी का है।

 

डॉ. अहमद ने बताया कि दांत दर्द से परेशान होकर मैं मंगलवार को हमीदिया अस्पताल के सीएमओ डॉ॰ फणींद्र शर्मा के पास पहुंचा। यहां मुझे कमला नेहरू अस्पताल जाने की सलाह दी गई। वहां से इमर्जेंसी में भेजा और इमर्जेंसी से जेपी अस्पताल जाने की सलाह दी गई। बुधवार को जब मैं जेपी अस्पताल पहुंचा तो डॉ॰ ने दांत का एक्सरे कराने को बोल कर हमीदिया जाने का कहकर चलता कर दिया। गुरुवार को जब मैं दोबारा हमीदिया अस्पताल पहुंचा तो यहां से वहां चक्कर लगवाते रहे। फिर मैं डॉ॰ फणींद्र शर्मा के पास पहुंचा तो उन्होंने ओपीडी का पर्चा बनवाकर लाने को कहा, जब पर्चा बनवाकर पहुंचा तो कहने लगे आप गैस पीड़ित हो कमला नेहरू जाओ, यहां कैसे इलाज करा सकते हो। जब मैंने यही बात पर्चे पर लिखकर देने को कही तो डॉ. शर्मा भड़क गए और बदसलूकी करने लगे। विरोध किया तो वे कुर्सी उठाकर मारने दौड़ पड़े। डॉ. अहमद ने मामले की शिकायत जीएमसी डीन डॉ. टीएन दुबे और हमीदिया अस्पताल अधीक्षक डॉ. एके श्रीवास्तव से की। इस पर डॉ. श्रीवास्तव ने डॉ. शर्मा को पूछताछ के लिए बुलाया तो वे इस कदर तैश में आगए कि दरवाजे को लात मारते हुए अधीक्षक के कैबिन में दाखिल हुए और चिल्लाना शुरू कर दिया। कैबिन में अन्य लोगो को बैठा देख डॉ. शर्मा वापस लौट गए। डॉ. फणींद्र शर्मा अपने गुस्सैल रवैये के चलते पहले भी विवादो में रहे हैं। 2014 में डॉ. शर्मा ने किसी बात पर तत्कालीन डायरेक्टर हेल्थ डॉ. केके ठस्सू को थप्पड़ मार दिया था। डॉ. शर्मा मूलरूप से स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी हैं, लेकिन उन्हें हमीदिया अस्पताल में पदस्थ किया गया है।

 

 

 

अपनी सफाई मे बोले डॉ. फणींद्र शर्मा, सीएमओ, मेरे खिलाफ साजिश की गई है। जानबूझकर मेरे पास ऐसे लोगो को भेजकर भड़काया जाता है, ताकि मेरे खिलाफ माहौल बनाया जा सके।  

 

 

 

डॉ. एके श्रीवास्तव, अधीक्षक, हमीदिया अस्पताल

 

मरीज की शिकायत के बाद डॉ. शर्मा को पूछताछ के लिए बुलाया था। उन्होंने हमारे कैबिन में आकर बदसलूकी की। इस संबंध में हमने आला अधिकारियों को बता दिया है। डॉ. शर्मा के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। 

Advertisment
 
प्रधान संपादक उप संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी सुलेखा सिंगोरिय डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com