ब्रेकिंग न्यूज़ बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                महाराष्ट्र। बुलढाणा के सरकारी स्कूल की छात्रा बनी एक दिन कि डीएम।                  
कलेक्टर निधि के मामले मे सीएम का रुख देख, अपनी ही कही बात से पलटे गृहमंत्री बाला बच्चन।

भोपाल। कलेक्टर निधि निवेदिता का थप्पड़ कांड प्रमाणित होने की रिपोर्ट लीक होने पर बुधवार को दफ्तरशाही और राजनीति मे दिनभर चर्चा का विषय बना रहा।

गृह मंत्री बच्चन ने डीजीपी के लिखे पत्र पर कलेक्टर का समर्थन करते हुये कहा कि “कलेक्टर ने पुलिस को थप्पड़ मारा, तो वह अपना काम कर रही थी”।

वही, जांच रिपोर्ट सार्वजनिक होने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सख्त शब्दो गुस्साये हुये वरिष्ठ अधिकारी से कहा कि कलेक्टर के खिलाफ  डीएसपी स्तर का अधिकारी कैसे जांच कर सकता है? यदि जांच करानी थी तो मुख्य सचिव से बात की जानी चाहिए थी। मुख्यमंत्री द्वारा इस मामले मे कि गई टिप्पणी के बाद शाम को गृह मंत्री बाला बच्चन ने अपने ही बयानबाजी से पलटी मारते हुये कहा डीजीपी के पत्र की उन्हे कोई जानकारी नहीं हैं।

  

जांच रिपोर्ट भाजपा का मजबूती आधार.......... 

 जांच रिपोर्ट में थप्पड़ मारे जाने की पुष्टि होने पर अब भाजपा को मजबूत कानूनी आधार मिल गया है। कलेक्टर के खिलाफ कार्रवाई में देरी हुई तो कोर्ट में इस्तगासा भी पेश किया जा सकता है।

जांच रिपोर्ट बाहर आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, राजगढ़ कलेक्टर ने सीमा लांघकर कार्यकर्ताओं पर थप्पड़ बरसाए और एक एएसआई को भी थप्पड़ मारा। कमलनाथजी से मेरा सवाल है कि क्या अभी भी इन्हें बचाया जाएगा या फिर कार्रवाई की जाएगी। वहीं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने भी कहा कि सरकार तुरंत कलेक्टर को दंडित करे।

 

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com