ब्रेकिंग न्यूज़ भोपाल, टेस्ट ऑफ इंडिया रेस्टोरेंट में खाद्यय विभाग का छापा मावे का नमूना दूषित पाया गया                इंदौर पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन की तबियत में सुधार                मुबई ग्लोबल मार्केट में तेजी के कारण बढ सकते हे खाद्द्य तेलों के दाम                भोपाल सिपाही रितेश यादव ने दर्द से परेशां होकर की ख़ुदकुशी                भोपाल संकट समय केन्द्रिये मंत्री से युवक ने आक्सीजन मांगी मंत्री पटेल ने कहा दो खाओगे                भोपाल पुलिस दुआरा मनमर्जी से बैरिगेट्स लगाने को लेकर जनता में गुस्सा                भोपाल दस दिनों में करोना से दस शिक्षकों की मौत,आयुक्त ने जानकारी बुलवाई                भोपाल खाना बनाते समय महिला आग से झुलसी                भोपाल डॉ ने सफाईकर्मी महिला को मारा थप्पड़ कर्मचारी गए हड़ताल पर                बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                  
बिना नंबर की बाइक रोकने पर मंत्री जीतू पटवारी के भाई ने एसआई से झूमाझमी कर मोबाइल तोड़ा।


इंदौर। चेकिंग पॉइंट से बिना नंबर की बाइक को रोकने पर मंगलवार रात को एक सब-इंस्पेक्टर पर जुटी पटवारी के भाई नाना पटवारी ने झूमाझटकी कर दी। ट्रांसपीर्ट नगर स्थित चेकिंग पॉइंट पर जूनी इंदौर थाने के एसआई प्रदीप यादव मंगलवार रात को डयूटी पर तैनात थे, तभी वहाँ से एक युवक बिना नंबर की बाइक लेकर जा रहा था। रोकने पर युवक ने नाना पटवारी के नाम की धौंस दिखाई एव फोन पर एसआई की नाना से बात भी कारवाई। एसआई ने पहचानने से इंकार कर दिया, तो कुछ ही देर मे नाना पटवारी कुछ समर्थको को लेकर चेकिंग पॉइंट पर पहुँच गए और एसआई से बहस करने लगे। बहस इतनी बढ़ गई कि नाना ने एसआई से हाथापाई शुरू कर दी, जिससे एसआई का मोबाइल गिरकर टूट गया। मौजूद पुलिसकर्मियो व समर्थको ने दोनों को अलग किया। घटना के बाद एसआई ने रोजनामचा मे रिपोर्ट दर्ज की, लेकिन बाद मे वे पीछे हट गए। सूत्रो के मुताबिक घटना के बाद एसआई का मेडिकल भी करवाया गया। डीआई जी ने कहा कि अगर कुछ हुआ हैं तो एसआई रिपोर्ट लिखवाने को स्वतंत्र हैं। उधर, मंत्री जीतू पटवारी ने घटना से इंकार किया। घटना के बाद से बुधवार को एसआई कुछ भी बोलने से बचते रहे और दिनभर अपने घर मे ही रहे।  

एसआई ने घटना को रोज़नामचे मे किया दर्ज- घटना के बाद एसआई यादव ने थाने जाकर रोज़नामचे मे रिपोर्ट डाल डी। उसमे लिखा, मैं चैंकिंग पर था, एक युवक को बाइक कि नंबर प्लेट न होने पर रोका तो उसके नाना पटवारी से बात करने को कहा, जब मैंने नाना की बात नहीं मानी, ततो एक कार मे नाना व कुछ युवक आए, और आते ही नाना ने मुझसे बहस शुरुकर दी, फिर मुझे मोबाइल मे रिकॉर्डिंग करने को कहा सुनी हुई, तो उसने मेरे साथ लात-घूंसो से मारपीट की और मेरा मोबाइल तोड़ दिया।

पटवारी बोले- मामले को जानबूझकर तूल दे रहे हैं, उच्चा शिक्षामंत्री जीतू पटवारी का कहना है कि नाना ने सब-इंपेक्टर के साथ कोई अभद्रुता नहीं की हैं और न ही कोई विवाद हुआ हैं। कुछ लोग इन मामले को जानबूझकर हवा दे रहे हैं। जो बताया जा रहा हैं, वैसे कुछ नहीं हुआ हैं।  

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com