ब्रेकिंग न्यूज़ इंदौर पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन की तबियत में सुधार                मुबई ग्लोबल मार्केट में तेजी के कारण बढ सकते हे खाद्द्य तेलों के दाम                भोपाल सिपाही रितेश यादव ने दर्द से परेशां होकर की ख़ुदकुशी                भोपाल संकट समय केन्द्रिये मंत्री से युवक ने आक्सीजन मांगी मंत्री पटेल ने कहा दो खाओगे                भोपाल पुलिस दुआरा मनमर्जी से बैरिगेट्स लगाने को लेकर जनता में गुस्सा                भोपाल दस दिनों में करोना से दस शिक्षकों की मौत,आयुक्त ने जानकारी बुलवाई                भोपाल खाना बनाते समय महिला आग से झुलसी                भोपाल डॉ ने सफाईकर्मी महिला को मारा थप्पड़ कर्मचारी गए हड़ताल पर                बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                  
लिव इन रिलेशनशिप में रह रही युवती के पार्टनर को भाई ने गोली मारी

भोपाल

कोलार क्षेत्र मे बुधवार रात एक निजी बैंक के सेल्स एग्जीक्यूटिव को उसकी लिव इन पार्टनर रही युवती के भाई ने पैर पर गोली मर दी। ओरोप यह है की पाँच साल से लिव इन रिलेशनशिप में रहने के बाद दोनों छह महीने से अलग हो गए थे। इस बात पर युवती का भाई नाराज था। पाँच साल तक लिव इन रिलेशनशिप में रहने के बाद रिलेशनशिप टूटने से पूरा परिवार नाराज था। कोलार पुलिस ने हत्या की कोशिश का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने पाँच लोगों को आरोपी बनाया है। ये घटना पन्ना निवासी 26 वर्षीय दीपेन्द्र दास के साथ हुई है। वे आईडीबी हालमार्क सिटी, कोलार रोड पर रहते है। टीआई चंद्रकान्त पटेल ने बताया कि पांच साल से दीपेन्द्र एक युवती के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। छह महिने से दोनों अलग हो गए है। तभी से युवती का परिवार नाराज था। बुधवार रात करीब 12 बजे दीपेन्द्र सेमरी रोड पुलिया से निकाल रहे थे। तब उनके पास एक कार मे सवार युवती का भाई और उसके मामा और एक अन्य व्यक्ति  ने उसे रोक लिया और मारपीठ करने लगे। इस बीच ही युवती के भाई ने गोली चला दी। और दीपेन्द्र को गोली दाहिने पैर कि पिंडली में जा लगी। और उसके बाद भी एक बाइक पर सवार 2 युवक ने मेरा नाम पूछा मेने अपना नाम बताया तो बोले ये अभी भी जिंदा है। और फिर उन्होने भी मेरे साथ मारपीट कि और फिर दोनों फरार हो गए है। पुलिस ने इन पांचों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।पुलिस ने टोनू उर्फ विकास, अंश उर्फ पप्पू,विनयनरजू और जगदीश को आरोपी बनाया है।  हालांकि, पुलिस एग्जीक्यूटिव के आरोप कि भी तकनीक पड़ताल भी कर रही है। क्योकि पुलिस को इस घटना कोई ठोस सबूत नहीं मिला है और ना ही उस जगह पर कोई सीसीटीवी कैमरा ही लगा है। दीपेंद्र का इलाज हमीदिया में जारी है, जो खतरे से बाहर है।

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com