ब्रेकिंग न्यूज़ इंदौर पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन की तबियत में सुधार                मुबई ग्लोबल मार्केट में तेजी के कारण बढ सकते हे खाद्द्य तेलों के दाम                भोपाल सिपाही रितेश यादव ने दर्द से परेशां होकर की ख़ुदकुशी                भोपाल संकट समय केन्द्रिये मंत्री से युवक ने आक्सीजन मांगी मंत्री पटेल ने कहा दो खाओगे                भोपाल पुलिस दुआरा मनमर्जी से बैरिगेट्स लगाने को लेकर जनता में गुस्सा                भोपाल दस दिनों में करोना से दस शिक्षकों की मौत,आयुक्त ने जानकारी बुलवाई                भोपाल खाना बनाते समय महिला आग से झुलसी                भोपाल डॉ ने सफाईकर्मी महिला को मारा थप्पड़ कर्मचारी गए हड़ताल पर                बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                  
एम्स मे नोकरी के नाम पर फर्जीवाड़ा सामने आया

भोपाल, एम्स के अलग –अलग विभाग में लैब टेक्नीशियन की भर्ती का न विज्ञापन जारी हुआ और न ही भर्ती का एग्जाम हुआ। सीधे 5 उम्मीदवारों को लैब टेक्नीशीयन पोस्ट पर नियुक्ति के लिए डोक्यूमेंट वेरिफिकेशन का पर्सनल अकाउंट से ई मेल पहुंचा गया। एम्स में नौकरी के नाम पर ठगी की कोशिश का यह मामला सामने  आया है। सोमवार 27 जुलाई को डोक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बुलावे का ईमेल मिला तो एक उम्मीदवार ने अपना नाम नहीं छापने की शर्त पे बताया कि एम्स में लैब टेक्नीशीयन पद पर नौकरी के लिए एक साल पहले एप्लाई किया था। लेकिन तब सिलेक्शन नहीं हुआ था। अभी कुछ महीने पहले आउटसोर्स कंपनी कि एक महिला कर्मचारी ने कॉल करके एम्स में लैब टेक्नीशियन कि पोस्ट पर भर्ती हो रही हैं। कि सूचना दी। डॉ॰सरमन सिंह जो एम्स के डायरेक्टर है ने बताया कि एम्स के विभिन्न डिपार्टमेंट में आउटसोर्स कर्मचारियों कि नियुक्ति पहले बेसिन कंपनी करवाती थी। परंतु इसका कांट्रैक्ट निरस्त हो चुका हैं। एम्स में नौकरी के लिए डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए ईमेल और फोन कॉल पहुँचने कि सूचना मीडिया से मिली है।   

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com