ब्रेकिंग न्यूज़ भोपाल, टेस्ट ऑफ इंडिया रेस्टोरेंट में खाद्यय विभाग का छापा मावे का नमूना दूषित पाया गया                इंदौर पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन की तबियत में सुधार                मुबई ग्लोबल मार्केट में तेजी के कारण बढ सकते हे खाद्द्य तेलों के दाम                भोपाल सिपाही रितेश यादव ने दर्द से परेशां होकर की ख़ुदकुशी                भोपाल संकट समय केन्द्रिये मंत्री से युवक ने आक्सीजन मांगी मंत्री पटेल ने कहा दो खाओगे                भोपाल पुलिस दुआरा मनमर्जी से बैरिगेट्स लगाने को लेकर जनता में गुस्सा                भोपाल दस दिनों में करोना से दस शिक्षकों की मौत,आयुक्त ने जानकारी बुलवाई                भोपाल खाना बनाते समय महिला आग से झुलसी                भोपाल डॉ ने सफाईकर्मी महिला को मारा थप्पड़ कर्मचारी गए हड़ताल पर                बीजेपी में सिंधिया की एंट्री से नाराजगी, पार्टी के बड़े नेता प्रभात झा हुए खफा                निर्भया का दोषी पवन पहुंचा कोर्ट, कहा- मुझे पीटने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज हो केस                  
शत्रु अनेक.........

 

शत्रु तो आज 
यूं ही बन ही जाते हैं
सच्चे दोस्त नहींं!
शत्रु भी...
मित्र बन छलते आज
घूमते- फिरते 
हर गली चौबारे में
शेर की खाल में भेड़िए!
मित्रता करो.. 
परंतु ! सोच समझ कर
छोड़े कभी ना जो साथ!
स्थिर स्तंभ सा खड़ा रहे जो
हर पल तुम्हारे साथ!
खुशियाँ हो अपार..
या हो कोई अवसाद !
छतरी बन करे छाया
 हो धूप दुखों की 
या अश्रुओं की 
हो बरसात!
दिया बन ..
कर दे उजियारा
जब हो अमावस की 
काली- अंधियारी रात!
हो दुख की कोई घड़ी  
या खुशियों की हो लड़ी
कभी ना छोड़े 
जो साथ!
अटल पर्वत बन 
संग रहे जो 
कभी ना छोड़े हाथ!
शत्रु हों चाहे अनेक
सौ पर भारी बस..
 मित्र एक!!
# निरुपमा सिंह #

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com