ब्रेकिंग न्यूज़ इंदौर टी आई भदोरिया सस्पेंड                प्रदेश मे कल से बंद रहेंगी 150 जीनिग फेक्टरी                समाजवादी पार्टी के संरक्षक पूर्व मुख्य मंत्री मुलायम सिंह का दिल्ली मे निधन                भोपाल : निगम की वेबसाइट से गायब हैं महापौर पार्षद                रतलाम : पश्चिम एक्स्प्रेस के फ़र्स्ट एसी कोच की स्प्रिंग टूटी |                भोपाल : पहली बार भोपाल में पुलिस परिवारों के लिए भी गरबा आयोजित                भोपाल : कमलनाथ बोले – शिवराज सरकार झूठ का पुलिंदा हैं                मुरादाबाद : नाबालिग से समूहिक दुष्कर्म, सड़क पर निर्वस्त्र छोड़ा |                नई दिल्ली-- कोमेडियन राजू श्रीवास्तव का लंबी बीमारी के बाद निधन                भोपाल : भोपाल शहर के नए प्रधान आयकर आयुक्त होंगे राजीव वाशर्णेय,अजय अत्री को इंदौर की कमान                भोपाल : इज्तिमा 18 से 21 नवंबर तक पहली बार विदेशी जमात शामिल नहीं होगी                नई दिल्ली : ईरान में महिलाएं हिजाब के खिलाफ सड़क पर हैं                मुंबई : केंद्रीय मंत्री राणे का अवैध निर्माण टूटेगा 10 लाख का जुर्माना लगा                गुना : कांग्रेस नेता ने बेटे को नौकरी दिलाने के नाम पर महिला के साथ ज़्यादती की                जयपुर : राम मंदिर आंदोलन से जुड़े आचार्य धर्मेन्द्र का निधन |                नई दिल्ली : गुजरात के आईपीएस को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत |                मुख्यमंत्री के निर्देश पर झाबुआ के एसपी अरविंद तिवारी सस्पेंड किए गए |                भोपाल, केक काटने को लेकर हुए विवाद में एसआई पर महिला से झूमाझटकी का आरोप                  
जुग जुग जियों.......


 

नन्हीं कोशिश '
नन्ही बिटिया के नन्हे हाथ
कोशिश करती बार-बार
बहती नदिया भारी
क्या करुं ....कैसे करूं
कागज की नाव हमारी 
नन्हीं परी की नन्हीं कोशिश
नन्हे पांव जमाये
गीली रेत मुष्टि में भरती
रेत फिसल ना जाये 
पुरजोर कोशिश करती 
सपनों की मानिंद बालू
नन्हें हाथों से ज्यूं ज्यूं सरकती 
फिर सहेजती ,समेटती 
झटपट नन्हें हाथों में 
कुछ सीपियाँ बंद ,नन्हें शंख
बटोरती, खिलखिलाती
 सुनहरी धूप सी वो
फिर फुदक - फुदक कर 
अठखेलियाँ करती 
जलपरी सी दिखती
आसमानी पानी में
यही तो है ..
नन्हीं सी बिटिया का 
नन्हें सा बचपन, 
प्यारा बचपन
न्यारा बचपन, 
मनमोहक बचपन
आज मोहवश 
अति व्याकुल हूं
 सोचूं यही बार-बार 
अनेक बार
कैसे और कब तक
क्या कर पायेगी अपनी सुरक्षा 
हर पल, हर दिन, हर बार 
अपने इर्द-गिर्द इन रेंगते 
विषैले, पनियाले कीड़ों से
जो हमला बोलने को हैं आतुर 
हर पल ,हर क्षण हर घड़ी
कब तलक सुरक्षा कर पायेगी 
मेरी सुकोमल, 
नन्हीं, बिटिया रानी !
*निरुपमा सिंह* 

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com