ब्रेकिंग न्यूज़ मुंबई : सलमान खान के घर फायरिंग के आरोप में गिरफ्तार आरोपी हिरासत में फंदे पर लटका मौत |                खंडवा : मार्कशीट में जन्मतिथि देखकर प्रेम विवाह करने वाली लड़की निकली नाबालिग प्रेमी गिरफ्तार |                 दतिया : डायनामाइट में पत्थर मारते ही विस्फोट, दो युवकों की मौत |                इंदौर : फर्जी बिल कांड में तीन कर्मचारी बर्खास्त |                इंदौर : कांग्रेस नेता मनोज सुले ने अपने कोल्ड स्टोरेज में फांसी लगाकर की अत्महत्या |                रतलाम : गला दबाकर पत्नी की हत्या कर आत्महत्या दिखाने के लिए मुंह में डाला जहर |                आलीराजपुर : शादी में जा रहे 2 भाइयों की ट्रक की चपेट में आने से मौत |                राजगढ़ : जंगल में पेड़ पर लटका मिला 72 दिन से गायब युवक का कंकाल |                झाबुआ : साड़ी के फंदे में फर्श पर मिला युवक का शव, हत्या की आशंका |                  
नानकसर गुरुद्वारा कमेटी ने सिख परिवार को आपस में जोड़ने की चलाई मुहिम घर-घर जाकर सिख मर्यादा व नियमों का पालन करने का कराया संकल्प |

भोपाल : 07/11/2023 :( सैफुद्दीन सैफी) देशभर में पहली बार सिख समाज के ग्रंथियों ने घर-घर जाकर सिख परिवारों को आपस में जोड़ने और उनका पूरा डेटा तैयार करने की पहल कर दी है | नानकसर गुरुद्वारा कमेटी ने सिख समाज के परिवारों को सिख मर्यादा और नियमों का पालन करने का संकल्प भी कराया | इस मुहिम को नाम दिया गया है ‘साडा विरसा, साडा परिवार, यानि हमारी संस्कृति हमारा परिवार | इस मुहिम के तहत पंच प्यारों के रूप में पांच ग्रंथी ज्ञानी हैं | जो हर रविवार को सिख समाज के घरों में जाकर केश, पगड़ी, कड़ा और कृपाण का महत्व बता रहे हैं | जिनके घरों में गुरुग्रंथ साहिब नहीं है, उन्हें वे उसी समय दे रहे हैं | वे पूछ रहे हैं कि, परिवार में कितने लोगों को गुरमुखी आती है या नहीं, किताब भी सीखने के लिए दे रहे हैं | कृपाण नहीं है घर में तो वे उसे भी उपलब्ध कराएंगे | यह बात भी समझाई जा रही है कि लोग गुरमुखी नहीं जानते उनके लिए नि:शुल्क कक्षाएं भी लगाई जाएंगी | यह मुहिम बैरागढ़ से प्रारंभ की गई है, ये पांच ग्रंथी दस परिवारों में अब तक पहुँचकर उनसे ये सवाल पूछ चुके हैं | परिवार में कितने लोग पगड़ी पहनते हैं ? कितने लोग कड़ा पहनते हैं ? रोज गुरवाणी का घर में कीर्तन होता है, या नहीं ? घर में गुरुग्रंथ साहिब हैं या नहीं, कृपाण है या नहीं ? कितने को गुरमुखी भाषा नहीं आती है ? सिख परिवारों को जानकारी दी जा रही है, कि नितनेम पाठ की कौन-कौन सी वाणी है, शाम की कौन सी वाणी है एवं रात में कौन सी वाणी पढ़कर सिख को सोना चाहिए | बच्चों को गुरुद्वारा साहिब में रोज लेकर जाएं |

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com