ब्रेकिंग न्यूज़ सिरोंज : नाबालिग का अपहरण कर बिना पंडित के ही मंदिर में लिए फेरे केस दर्ज |                मंदसौर : नशे में धुत शिक्षक ने स्कूल में किया हंगामा मामला दर्ज |                बड़वानी : अनियंत्रित होकर नदी की पुलिया पर लटकी बस, यात्री सुरक्षित |                भिंड : युवक की पीट पीटकर हत्या, चचेरे भाई गंभीर परिजनों ने किया चक्काजाम |                ग्वालियर : बीएसएफ प्रशिक्षक शहाना पर साथी के अपहरण की एफआईआर |                ग्वालियर : बीएसएफ प्रशिक्षक शहाना पर साथी के अपहरण की एफआईआर |                सागर : मेहर गाँव में उल्टी दस्त के मरीज बढ़े एक की मौत |                  
शहर में हर साल वाहनों की संख्या तो बढ़ रही है लेकिन पार्किंग व्यवस्था न होने से सड़कों पर खड़े वाहनों से बढ़ रही ट्रैफिक जाम की समस्या |

भोपाल : 05/07/2024 : शहर में वाहनों की संख्या लगातार तेज़ी से बढ़ रही है इन्हें किसी भी तरह रोका तो नहीं जा सकता लेकिन इनका मैनेजमेंट सही ढंग से कर लिया जाए तो ट्रैफिक जाम की समस्या का समाधान हो सकता है | शहर में जितनी चौड़ी सड़कें हो रही हैं उन पर ही गाड़ियां खड़ी करने की रिवायत कम होने का नाम ही नहीं ले रही है | हर साल शहर में करीब 80 हज़ार से अधिक नए वाहन आ रहे हैं लेकिन इन वाहनों को पार्क करने के लिए कोई उचित व्यवस्था नहीं की जा रही नतीजा सड़क फुटपाथों पर लोग वाहन खड़े कर रहे हैं, जिससे ट्रैफिक जाम की स्थिति बनती है | शहर में लगातार बढ़ते वाहनों के लिए नगर-निगम के पास महज 30 पार्किंग बिल्डिंग ही हैं | जिनमें 3 मल्टीलेवल और 2 प्रीमियम पार्किंग भी शामिल हैं यह सभी 6 साल पहले की बनी हुई हैं | मतलब बीते 6 साल में निगम प्रशासन ने एक भी पार्किंग विकसित नहीं की है | सड़क पर वाहन खड़े न हो इसके लिए नगर-निगम ने बिल्डिंग परमिशन देने के लिए नियम बना रखा है कि एक हज़ार वर्ग फीट या उससे बड़े प्लाट पर निर्माण करते समय पार्किंग की जगह छोड़ना ज़रूरी है | आरटीओ के मुताबिक ये साल पूरा होने तक करीब 1 लाख से अधिक वाहन शहर की सड़कों पर दौड़ते नज़र आएंगे | लेकिन सड़कें जितनी हैं, उतनी ही रहेंगी | भले ही शहर का नया मास्टर प्लान तैयार किया जा रहा है, लेकिन अभी शहर का दायरा कम से कम पांच साल तक यही रहेगा | शहर में कारें इतनी हो गई हैं कि अगर इन्हें लाइन से खड़ा कर दिया जाए तो करीब 2 हज़ार 95 किमी लंबी लाइन लग जाएगी | शहर में वाहनों की बढ़ती संख्या को देखते हुए इसके लिए समग्र ट्रैफिक प्लानिंग करना बहुत ज़रूरी है | इसमें चौड़ी सड़क, फ्लाय ओवर, रोड साइड और ऑफ रोड बड़े पार्किंग स्थल, फुटपाथ का समुचित प्रावधान हो | टीएंडसीपी और नगर निगम को ये व्यवस्था करना चाहिए कि नए कमर्शियल या रेसिडेंशियल कॉम्प्लेक्स में पार्किंग की व्यवस्था जरूर रखी जाए | शहर की सड़कें पर्याप्त चौड़ी हों, ताकि ट्रैफिक में कोई बाधा न आए और पार्किंग की जगह भी मिले | सड़कों पर ट्रैफिक का दबाव जितना कम होगा, पार्किंग की समस्या भी उतनी ही कम हो जाएगी |

 

Advertisment
 
प्रधान संपादक समाचार संपादक
सैफु द्घीन सैफी डॉ मीनू पाण्ड्य
Copyright © 2016-17 LOKJUNG.com              Service and private policy              Email : lokjung.saify@gmail.com